साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के विरोध में BJP विधायक ने दिया बयान

शहीद हेमंत करकरे को लेकर दिए गए बयान के कारण साध्वी की किरकिरी हो रही है, हालांकि बीजेपी ने इसे उनका निजी बयान बताते हुए पल्ला झाड़ लिया था, जिसके बाद शायद साध्वी प्रज्ञा ने भी इस पर खेद जताना ही उचित समझा और माफी भी मांग ली। पर इसको लेकर बयानबाजी और विरोध जारी है।

Avatar Written by: April 21, 2019 3:08 pm

नई दिल्ली। शहीद हेमंत करकरे को लेकर दिए गए बयान के कारण साध्वी की किरकिरी हो रही है, हालांकि बीजेपी ने इसे उनका निजी बयान बताते हुए पल्ला झाड़ लिया था, जिसके बाद शायद साध्वी प्रज्ञा ने भी इस पर खेद जताना ही उचित समझा और माफी भी मांग ली। पर इसको लेकर बयानबाजी और विरोध जारी है।

बता दें कि गोरखपुर से भाजपा विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल ने मालेगांव बम धमाकों की आरोपी और भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार प्रज्ञा ठाकुर के शहीद हेमंत करकरे को लेकर दिए गए बयान को राजद्रोह करार दिया है। उन्होंने कहा कि ये बयान सिर्फ शर्मनाक नहीं है, बल्कि राजद्रोह भी है। इस संबंध में अग्रवाल ने एक ट्वीट भी किया। उन्होंने लिखा कि हेमंत करकरे आतंकवादियों से मुकाबला करते हुए शहीद हो गए थे।

शनिवार को ट्वीट को लेकर पूछे जाने पर अग्रवाल ने कहा, ‘‘हां, मैंने यह ट्वीट किया है और मैं अपने बयान पर कायम हूं। हेमंत करकरे भारत के महान शहीद और बेहतरीन पुलिस अधिकारी थे।’’

साध्वी प्रज्ञा को भोपाल लोकसभा सीट से प्रत्याशी बनाने को लेकर बीजेपी विधायक ने कहा कि पार्टी पहले ही प्रज्ञा के बयान से खुद को अलग कर चुकी है। प्रज्ञा का बयान पार्टी का बयान नहीं है। इसी वजह से उन्होंने माफी भी मांगी है।

बता दें कि साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने मुंबई हमलों के दौरान शहीद हुए पुलिस अधिकारी हेमंत करकरे के खिलाफ कहा था कि मालेगांव बम धमाके के मामले में गिरफ्तारी के बाद करकरे ने उन्हें यातनाएं दी थीं। उनके शाप की ही वजह से आतंकवादियों ने उन्हें मार डाला। विरोध होने के बाद साध्वी प्रज्ञा ने माफी मांग ली थी।