भाजपा सीएए लागू करने को शिवसेना से ‘समझौता’ के लिए तैयार

भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने यहां शनिवार को कहा कि अगर शिवसेना को अपने सहयोगी कांग्रेस व राकांपा के साथ नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) को लागू करने में समस्याओं का सामना करना पड़ा, तो वह महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ कोई भी राजनीतिक समझौता करने के लिए तैयार है।

Avatar Written by: December 14, 2019 7:48 pm

नासिक। भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने यहां शनिवार को कहा कि अगर शिवसेना को अपने सहयोगी कांग्रेस व राकांपा के साथ नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) को लागू करने में समस्याओं का सामना करना पड़ा, तो वह महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ कोई भी राजनीतिक समझौता करने के लिए तैयार है। पूर्व मंत्री आशीष शेलार ने कहा कि भाजपा के लिए राष्ट्र हर चीज पर ऊपर है और सीएए को लागू करना देश और महाराष्ट्र के हितों के लिए अति आवश्यक है। Ashish Shelar BJP Maharshtra

शेलार ने मीडियाकर्मियों से कहा, “महाराष्ट्र और देश के अन्य हिस्सों में कई पाकिस्तानी और बांग्लादेशी अवैध प्रवासी रहते हैं। हम मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से तुरंत सीएए को लागू करने का आह्वान करते हैं।”

यह पूछे जाने पर कि क्या आप इस मुद्दे पर महा विकास अघाडी सरकार से शिवसेना को नाता तोड़ लेने को कहेंगे, शेलार ने कहा कि अगर राकांपा और कांग्रेस किसी तरह की बाधा उत्पन्न न करे तो भाजपा सभी समायोजन करने के लिए तैयार है।Devendra Fadnavis, Uddhav Thackerayशेलार ने शिवसेना से आग्रह किया, “अपनी सरकार को बचाने की चिंता न करें। अगर आप सीएए के लिए सरकार से बाहर चले आते हैं तो हम आपस में चर्चा कर सकते हैं और समझौता कर सकते हैं। किसी से डरें नहीं, उन्हें अपनी असली ताकत दिखाएं।”

उन्होंने कहा कि शिवसेना ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक का समर्थन किया था, लेकिन राज्यसभा में इसका समर्थन करने से पार्टी पीछे हट गई।devendra fadnavis and Uddhav Thakcrey

शेलार ने कहा, “अपनी सरकार को बचाने के लिए शिवसेना को राष्ट्रीय हितों का त्याग नहीं करना चाहिए।”

शेलार ने दावा किया कि भाजपा की कभी सत्ता की राजनीति में दिलचस्पी नहीं रही है, बल्कि इसने केवल राष्ट्रीय हितों के लिए काम किया है। इसी दिशा में सीएए को महाराष्ट्र में लागू किया जाना चाहिए।Devendra Fadnavis and Uddhav Thackeray

शेलार की आलोचना करते हुए शिवसेना की प्रवक्ता मनीषा कयांडे ने आईएएनएस से कहा, “शेलार लगातार सीएम पर निशाना साध रहे हैं और सोशल मीडिया के माध्यम से विभिन्न मुद्दों पर पार्टी की बुराई कर रहे हैं। आज उनका रुख अचानक कैसे बदल गया है? क्या वह पार्टी की ओर से आधिकारिक तौर पर बोल रहे हैं?

उन्होंने कहा कि भाजपा ने अब समझौता करने में बहुत देर कर दी है, क्योंकि शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस गठबंधन बहुत दूर तक चला गया है और राज्य को प्रभावी ढंग से संचालित कर रहा है।Ashish Shelar BJP Maharshtra

भाजपा के राज्य उपाध्यक्ष किरीट सोमैया ने भी शुक्रवार को ठाकरे को पत्र लिखकर मांग की थी कि राज्य सरकार को सीएए लागू करने की घोषणा तुरंत करनी चाहिए।

राहुल को शिवसेना की नसीहत, वीर सावरकर का अपमान न करें

कांग्रेस पार्टी की यहां रामलीला मैदान में शनिवार को आयोजित ‘भारत-बचाओ रैली’ में राहुल गांधी ने हिंदूवादी नेता विनायक दामोदर सावरकर पर निशाना साधा तो महाराष्ट्र में गठबंधन सहयोगी शिवसेना ने उसपर नाराजगी जाहिर की है। शिवसेना ने राहुल गांधी का बगैर नाम लिए उन्हें सावरकर का अपमान न करने की नसीहत दी है। शिवसेना के राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने मराठी में ट्वीट किया, “हम पंडित नेहरू, महात्मा गांधी को भी मानते हैं, आप वीर सावरकर का अपमान मत करो। बुद्धिमान लोगों को ज्यादा बताने की जरूरत नहीं होती।” दूसरे ट्वीट में उन्होंने कहा कि वीर सावरकर महाराष्ट्र ही नहीं, पूरे देश के लिए आदरणीय हैं।


संजय राउत का यह बयान कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा शनिवार को रामलीला मैदान में पार्टी की रैली में दिए गए उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा, “कल संसद में भाजपा के लोगों ने मुझे मेरे भाषण के लिए माफी मांगने के लिए कहा। लेकिन मैं उन्हें बता देना चाहता हूं कि मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं है, मेरा नाम राहुल गांधी है। मैं सच्चाई के लिए कभी माफी नहीं मांगूंगा। मैं मर जाऊंगा, मगर माफी नहीं मांगूंगा, न कोई कांग्रेस का कार्यकर्ता माफी मांगेगा।”