ट्रेन चलाने के फैसले पर चिदंबरम ने की मोदी सरकार की तारीफ, कांग्रेस में मच गई खलबली

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने ट्वीट कर सरकार के फैसले का स्वागत किया और कहा, “हम एक राज्य से दूसरे राज्य में यात्री ट्रेनों के संचालन को एहतियात के साथ शुरू करने के सरकार के फैसले का स्वागत करते हैं। सड़क परिवहन और हवाई सेवाओं को भी शुरू किया जाना चाहिए।”

Avatar Written by: May 11, 2020 2:28 pm

नई दिल्ली। पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने कुछ चुनिंदा स्थानों के लिए यात्री रेल सेवा बहाल किए जाने के मोदी सरकार के फैसले का स्वागत किया है। चिदंबरम ने केंद्र सरकार की तारीफ करते हुए कहा है कि आगे भी यही रणनीति अपनानी चाहिए। गौरतलब है कि भारतीय रेल ने रविवार को कहा कि उसकी योजना 12 मई से चरणबद्ध तरीके से यात्री ट्रेन सेवाएं शुरू करने की है, और शुरुआत में चुनिंदा मार्गों पर 15 जोड़ी ट्रेनें (अप-एंड-डाउन मिलाकर 30 ट्रेनें) चलायी जाएंगी।

Patna To Jaipur Special train

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने ट्वीट कर सरकार के फैसले का स्वागत किया और कहा, “हम एक राज्य से दूसरे राज्य में यात्री ट्रेनों के संचालन को एहतियात के साथ शुरू करने के सरकार के फैसले का स्वागत करते हैं। सड़क परिवहन और हवाई सेवाओं को भी शुरू किया जाना चाहिए।”

P chidambaram PM Modi

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, “आर्थिक और वाणिज्यिक गतिविधि प्रभावी ढंग से शुरू करने का एकमात्र तरीका यात्रियों और माल के लिए सड़क, रेल और हवाई सेवाएं खोलना है।”

Chidambaram Tweet

ट्रेन सेवाओं को बहाली को लेकर कांग्रेस में मतभेद सोमवार को सामने आ गए। दिल्ली की पार्टी नेता राधिका खेड़ा ने कोरोनोवायरस महामारी के बीच एक राज्य से दूसरे राज्य में ट्रेन सेवाओं को फिर से शुरू करने के केंद्र सरकार के कदम का समर्थन करने पर पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम से सवाल किया है।

Rahul and Radhika

राधिका खेड़ा के इस ट्वीट के तूल पकड़ने के बाद कांग्रेस मीडिया विभाग में हड़कंप मच गया। सूत्रों के मुताबिक एक सीनियर नेता के दखल के बाद राधिका खेड़ा से यह ट्वीट डिलीट करने को कहा गया। विवाद बढ़ता देख आखिरकार राधिका खेड़ा ने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया। लेकिन इस ट्विटर विवाद से इतना तो साफ हो गया कि कांग्रेस नेताओं में लॉक डाउन से जुड़े केंद्र सरकार के फैसलों को लेकर आम राय नहीं है।

गौरतलब है कि लॉकडाउन के बीच देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्‍या में वृद्धि जारी है। देश में इस समय कोराना मरीजों का आंकड़ा 67 हजार के पार पहुंच चुका है, इस वायरस के कारण 2206 लोगों को जान गंवानी पड़ी है।