अरुणाचल की सीमा से लापता 5 भारतीय युवक की हुई वतन वापसी, चीन ने सौंपा

सीमा पर जारी तनातनी के बीच अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) से लापता हुए पांचों युवकों को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने आज भारतीय सेना को सौंप दिया है।

Avatar Written by: September 12, 2020 2:56 pm
missing from Arunachal Pradesh

नई दिल्ली। सीमा पर जारी तनातनी के बीच अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) से लापता हुए पांचों युवकों को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने आज भारतीय सेना को सौंप दिया है।  सेना ने सभी औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद आज किबिटू (Kibithu ) में इन व्यक्तियों (अरुणाचल प्रदेश से लापता) को ले लिया। इन सभी को कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत 14 दिनों के लिए क्वारंटीन किया जाएगा और इसके बाद इन्हें परिवार के सदस्यों को सौंप दिया जाएगा। इस बात की जानकारी तेजपुर डिफेंस के जनसंपर्क अधिकारी ने दी।

यह घटना तब सामने आई थी जब एक समूह के दो सदस्य जंगल में शिकार के लिए गए थे और लौटने पर उन्होंने उक्त पांच युवकों के परिवार वालों को जानकारी दी थी कि युवकों को सेना के गश्ती क्षेत्र सेरा-7 से चीनी सैनिक ले गए हैं। यह स्थान नाचो से 12 किलोमीटर उत्तर में स्थित है। मैकमोहन रेखा पर स्थित नाचो अंतिम प्रशासनिक क्षेत्र है और यह दापोरीजो जिला मुख्यालय से 120 किलोमीटर दूर है। चीनी सेना द्वारा कथित तौर पर अगवा किए गए युवकों की पहचान तोच सिंगकम, प्रसात रिंगलिंग, डोंगतु एबिया, तनु बाकर और नगरु दिरी के रूप में की गई।

India China army

इस घटना के बाद मंत्री रिजिजू ने शुक्रवार को ट्वीट कर बताया था कि चीन की पीएलए ने भारतीय सेना से इस बात की पुष्टि की है कि वह अरुणाचल प्रदेश के युवकों को हमें सौंप देंगे। चीनी सेना ने बताया था कि आज 12 सितंबर को किसी भी समय एक निर्दिष्ट स्थान पर सौंपा जा सकता है। इसके अलावा, रिजिजू ने ही पहली बार इसकी सूचना दी थी कि पीएलए ने इस बात की पुष्टि की है कि युवक सीमा पार चीन में पाए गए हैं।

Support Newsroompost
Support Newsroompost