भ्रष्टाचारियों पर फिर गरजे सीएम योगी, होमगार्ड से लेकर फॉरेस्ट महकमे तक चला चाबुक

होमगार्ड ड्यूटी घोटाले पर सीएम योगी ने सख्त एक्शन लिया है। सीएम योगी ने डीजी होमगार्ड जीएल मीणा के खिलाफ कार्यवाही की है। उन्हें पद से हटा दिया गया है।

Written by: December 3, 2019 6:57 pm

नई दिल्ली। सीएम योगी आदित्यनाथ का भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान जारी है। सीएम योगी एक के बाद दूसरे कदम उठाकर भ्रष्टाचार के खिलाफ बेहद सख्त रवैया अपनाने का संकेत दे रहे हैं। इस बार उन्होंने होमगार्ड विभाग और वन विभाग के दागी अफसरों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की है।

cm yogi adityanath

होमगार्ड ड्यूटी घोटाले पर सीएम योगी ने सख्त एक्शन लिया है। सीएम योगी ने डीजी होमगार्ड जीएल मीणा के खिलाफ कार्यवाही की है। उन्हें पद से हटा दिया गया है।  उन्हें फिलहाल कहीं पोस्टिंग भी नहीं दी गई है और  अभी प्रतीक्षारत रखा गया है। उनकी जगह डीजी जेल आनंद कुमार को अतिरिक्त चार्ज दे दिया गया है।

UP CM Yogi Adityanath

इसी तरह सोनभद्र में जमीन कब्जे के मामले पर भी सीएम योगी ने कड़ी कार्यवाही की है। वन विभाग के दो बड़े अफसरों पर गाज गिराई गई है। प्रमुख सचिव वन कल्पना अवस्थी को पद से हटा दिया गया है। इसके साथ ही प्रमुख वन संरक्षक पवन कुमार को भी उनके पद से मुक्त कर दिया गया है।

up cm yogi adityanath

दरअसल सोनभद्र में जमीन पर कब्जे को लेकर नरसंहार की बुनियाद कोई एक दिन में नहीं रखी गई। इन हालात से वर्ष 2014 में ही तत्कालीन मुख्य वन संरक्षक (भू-अभिलेख एवं बंदोबस्त) एके जैन ने शासन व सरकार को अवगत करा दिया था। जैन की रिपोर्ट के मुताबिक, सोनभद्र में जंगल की जमीन की लूट मची हुई है।

yogi

अब तक एक लाख हेक्टेयर से ज्यादा जमीन अवैध रूप से बाहर से आए रसूखदारों या उनकी संस्थाओं के नाम की जा चुकी है। सीएम योगी की भ्रष्टाचार पर कड़ी कार्यवाही का सिलसिला लगातार जारी है। अब तक 1000 से अधिक अफसरों-कर्मचारियों पर गाज गिर चुकी है।