आंख में धूल झोंकना है प्रज्ञा की माफी : माकपा

अपने बयान में माकपा ने कहा, “भाजपा के इशारे पर प्रज्ञा ने जो माफी मांगी है, वह इस बात की पुष्टि करती है कि वह अभी भी अपनी बात पर कायम हैं।”

Avatar Written by: May 17, 2019 7:05 pm

नई दिल्ली। भोपाल से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर द्वारा महात्मा गांधी के कातिल को देशभक्त बताने के बाद मांगी गई माफी को मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने शुक्रवार को ‘आंख में धूल झोंकना’ (आईवॉश) बताया।

अपने बयान में माकपा ने कहा, “भाजपा के इशारे पर प्रज्ञा ने जो माफी मांगी है, वह इस बात की पुष्टि करती है कि वह अभी भी अपनी बात पर कायम हैं।” महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को ‘देशभक्त’ कहने के बाद प्रज्ञा ठाकुर निशाने पर आ गईं और उनकी व्यापक आलोचना हुई।


बयान में कहा गया, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें (प्रज्ञा को) ‘भारत की सभ्यता की विरासत का प्रतीक’ बताया था। उन्हें टिकट देकर भाजपा-आरएसएस हिंदुत्व सांप्रदायिक वोट बैंक को मजबूत करने की कोशिश कर रहीं हैं।”


माकपा ने कहा, “यह बात आरएसएस-भाजपा के आतंकवाद, आतंकवाद आरोपी और महात्मा गांधी के हत्यारे के प्रति रवैये को दर्शाती है।”ं

Support Newsroompost
Support Newsroompost