जामिया के गेट पर छात्रों ने अर्धनग्न होकर किया प्रदर्शन

जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय परिसर के बाहर सोमवार सुबह भी छात्रों का प्रदर्शन जारी रहा। परिसर के प्रवेश द्वार पर कुछ छात्रों ने अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। तेज ठंड में इनमें से कुछ छात्र करीब दो घंटे तक ऐसे ही अर्धनग्न अवस्था में गेट के बाहर प्रदर्शन करते रहे। ये छात्र दिल्ली पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे।

Avatar Written by: December 16, 2019 12:35 pm

नई दिल्ली। जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय परिसर के बाहर सोमवार सुबह भी छात्रों का प्रदर्शन जारी रहा। परिसर के प्रवेश द्वार पर कुछ छात्रों ने अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। तेज ठंड में इनमें से कुछ छात्र करीब दो घंटे तक ऐसे ही अर्धनग्न अवस्था में गेट के बाहर प्रदर्शन करते रहे। ये छात्र दिल्ली पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे।

Jamia Millia Islamia University Protest

छात्रों का कहना है कि पुलिस विश्वविद्यालय परिसर में बिना अनुमति के घुसी और यहां लाइब्रेरी में पढ़ रहे छात्रों को बाहर निकाल कर उन्हें पीटा गया। अर्धनग्न अवस्था में मौजूद इन छात्रों का साथ देने के लिए बड़ी संख्या में इनके अन्य साथी भी विरोध प्रदर्शन स्थल पर मौजूद थे।

सुबह से ही यहां बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं विरोध प्रदर्शन स्थल पर पहुंचना शुरू कर दिया। ये सभी छात्र-छात्राएं नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), 2019 का विरोध कर रहे छात्रों पर रविवार को हुई पुलिस कार्रवाई का विरोध कर रहे हैं। रविवार को जामिया के छात्रों ने सीएए के खिलाफ प्रदर्शन किया था। इस दौरान कुछ प्रदर्शनकारियों ने कई बसों व दोपहिया वाहनों को आग के हवाले कर दिया। जिसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग कर छात्रों को खदेड़ा।

हॉस्टल छोड़कर घर जाने लगी हैं जामिया की छात्राएं

जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के छात्रों के विरोध प्रदर्शन और पुलिस द्वारा उनकी पिटाई के बाद अब कई छात्राएं इस घटनाक्रम से बुरी तरह डर गई हैं। सोमवार सुबह कई छात्राओं ने हॉस्टल खाली कर दिए। ये छात्राएं अब अपने घर लौट रही हैं। छात्रावास से अपने जरूरी सामान लेकर ये छात्राएं अपने-अपने घरों के लिए रवाना हो गईं। सानिया नामक एक छात्रा ने बताया की फिलहाल वह और उनकी अन्य साथी इस हिंसक माहौल में स्वयं को सुरक्षित महसूस नहीं कर रही हैं। छात्राओं ने बताया कि रविवार की घटना के बाद उनके परिजन भी बुरी तरह डर गए हैं।

Jamia Millia Islamia University
विश्वविद्यालय के अंदर और बाहर बने हालात के बाद परिजन लगातार इन छात्राओं से संपर्क में हैं और उन्हें घर लौटने के लिए कह रहे हैं। इनमें से कई छात्राएं इस विरोध प्रदर्शन का हिस्सा नहीं रही हैं।  गौरतलब है कि विश्वविद्यालय में विरोध प्रदर्शन को देखते हुए पांच जनवरी तक अवकाश घोषित कर दिया गया है। इसके साथ ही यहां होने वाली परीक्षाओं को भी टाल दिया गया है। यही कारण है कि अब यह छात्राएं हिंसक झड़पों से बचने के लिए अपने-अपने घर जा रही हैं।