‘केजरीवाल के कारण अच्छे लोग नहीं आते राजनीति में’, गंभीर का ‘आप’ को बड़ा चैलेंज

2019 लोकसभा चुनाव में दिल्ली पहुंचने की जंग के बीच राजधानी में अलग ही जंग छिड़ी हुई है। दिल्ली में मतदान से पहले आम आदमी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के बीच बवाल बढ़ गया है।

Written by: May 10, 2019 11:17 am

नई दिल्ली। 2019 लोकसभा चुनाव में दिल्ली पहुंचने की जंग के बीच राजधानी में अलग ही जंग छिड़ी हुई है। दिल्ली में मतदान से पहले आम आदमी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के बीच बवाल बढ़ गया है। बता दें कि AAP नेता और पूर्वी दिल्ली से लोकसभा प्रत्याशी आतिशी ने गुरुवार को खिलाड़ी से नेता बने गौतम गंभीर पर उनके खिलाफ अभद्र पर्चे बांटने का आरोप लगाया। आतिशी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में रोते हुए गंभीर के खिलाफ आरोप लगाए।

तो वहीं मामले को लेकर शुक्रवार सुबह गंभीर ने भी अरविंद केजरीवाल पर पलटवार किया। गौतम गंभीर ने कहा कि आज अच्छे लोग राजनीति में नहीं आना चाहते हैं, क्योंकि वह अरविंद केजरीवाल जैसे लोगों के सामने खड़े नहीं होना चाहते हैं। केजरीवाल लगातार संक्रीण मानसिकता की राजनीति को बढ़ावा दे रहे हैं।

आतिशी ने क्या आरोप लगाए…
गुरुवार को जब दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के साथ आतिशी मीडिया से बात करने आईं तो फफक-फफक कर रोने लगीं। आतिशी का आरोप था कि गौतम गंभीर और भारतीय जनता पार्टी ने पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र में कुछ ऐसे पर्चे बंटवाएं हैं, जिनमें उनके खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया गया है।

गौतम गंभीर ने क्या दिया जवाब…
आरोपों पर भड़के गौतम गंभीर ने कहा कि अगर आतिशी ने आरोप को सही साबित कर दिया जाए तो वह अपना नामांकन वापस ले लेंगे और चुनाव मैदान से हट जाएंगे। उन्होंने चैलेंज दिया कि अगर यह साबित हुआ कि मैंने यह किया है तो मैं अभी अपनी उम्मीदवारी वापस ले लूंगा, अगर नहीं तो क्या आप राजनीति छोड़ेंगे?

गौतम गंभीर ने कहा कि वह राजनीति में कुछ अच्छा करने के लिए आए हैं, ना कि इस तरह के हथकंडों का इस्तेमाल करने के लिए आए हैं। ना सिर्फ पलटवार बल्कि गौतम गंभीर ने अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और आतिशी के खिलाफ मानहानि का केस भी कर दिया है और माफी मांगने को कहा है।

बीजेपी उम्मीदवार ने कहा कि उन्हें शर्म है कि उनके राज्य का मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जैसा है, जो एक चुनाव जीतने के लिए इस हद तक जा सकता है। गौतम गंभीर के समर्थन में उनकी पार्टी पूरी तरह से साथ आ गई है, बीजेपी भी लगातार AAP पर हमलावर है।

बता दें कि पूर्वी दिल्ली सीट से आतिशी का मुकाबला भाजपा के गौतम गंभीर और कांग्रेस के अरविंदर सिंह लवली से है। राजधानी दिल्ली में 12 मई को सभी सातों सीटों पर वोट डाले जाने हैं।