अगस्ता वेस्टलैंड: दिल्ली HC ने क्रिश्चियन मिशेल और CBI को भेजा नोटिस, 22 अप्रैल को कोर्ट में हाजिर होने के निर्देश

निचली अदालत ने क्रिश्चियन मिशेल को जेल में 15 मिनट फोन कॉल करने की इजाजत दी थी, जिसके खिलाफ तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था

Written by: March 18, 2019 3:00 pm

नई दिल्ली। अगस्ता वेस्टलैंड मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने सीबीआई और डील के कथित बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को एक नोटिस जारी किया है। यह नोटिस मिशेल की ओर से फोन कॉल के गलत इस्तेमाल से जुड़ा हुआ है।

दरअसल, निचली अदालत ने क्रिश्चियन मिशेल को जेल में 15 मिनट फोन कॉल करने की इजाजत दी थी, जिसके खिलाफ तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।याचिका में जेल प्रशासन ने कहा है कि यह जेल मेनुअल के खिलाफ है।

मिशेल पर आरोप है कि उसने अपने दो और साथियों के साथ मिलकर यह आपराधिक षडयंत्र रचा। मिशेल के साथ इस मामले में तत्कालीन वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी और उनके परिवार के सदस्य भी शामिल रहे हैं।

Enforcement Directorate

ईडी को जांच में पता चला था कि मिशेल अपनी दुबई की कंपनी ग्लोबल सर्विसेज के माध्यम से दिल्ली की एक कंपनी को शामिल करके अगस्ता वेस्टलैंड से रिश्वत ली।आरोप है कि अगस्ता वेस्टलैंड ने डील फाइनल कराने के लिए क्रिश्चियन को करीब 350 करोड़ रुपये सौंपे थे, जो भारतीय राजनेताओं, एयरफोर्स के अफसरों और नौकरशाहों को देने थे।क्रिश्चियन ने घूस की रकम ट्रांसफर करने के लिए दो कंपनियों ग्लोबल सर्विसेज एफजेडई, दुबई और ग्लोबल ट्रेड एंड कॉमर्स सर्विसेज, लंदन का इस्तेमाल किया था।

वहीं अब इस मामले में कोर्ट ने सीबीआई से नोटिस पर जवाब मांगा है। इसके साथ ही कोर्ट ने उन्हें आने वाले 22 अप्रैल को कोर्ट में हाजिर होने के निर्देश दिए हैं।

आपको बता दें कि मिशेल को पिछले साल 22 दिसंबर को दुबई से प्रत्यर्पण संधि के तहत गिरफ्तार किया गया था। ईडी ने 5 जनवरी को अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकाप्टर घोटाले के मामले में पूछताछ के लिए मिशेल को न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।मिशेल ईडी और सीबीआइ द्वारा गिरफ्तार किए गए अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले के तीन आरोपियों में से एक है, उसके अलवा इस सौदे में दो अन्य बिचौलिए गुइदो हाश्के और कार्लो गेरेसा थे।