वोट डालने के बाद बोले सीएम नीतीश- चुनाव को इतना लंबा नहीं खींचना चाहिए

वोट डालने के बाद नीतीश कुमार ने एक महीने से अधिक समय तक चले चुनाव को लेकर आपत्ति जताई। सीएम नीतीश ने कहा कि चुनाव कम से कम चरणों में कराया जाना चाहिए। यहां ध्यान रहे कि विपक्षी पार्टियां भी इसी तरह की मांग कर रही हैं और सात चरणों में चुनाव कराए जाने को लेकर चुनाव आयोग पर सवाल उठाती रही है।

Written by: May 19, 2019 9:45 am

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में रविवार को 8 राज्यों की 59 लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहा है। इसी चरण में बिहार में आठ सीटों पर मतदान हो रहा है। बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने भी आज पटना में राजभवन स्थित बूथ संख्या 326 पर वोट डाला।

Nitish Kumar

वोट डालने के बाद नीतीश कुमार ने एक महीने से अधिक समय तक चले चुनाव को लेकर आपत्ति जताई। सीएम नीतीश ने कहा कि चुनाव कम से कम चरणों में कराया जाना चाहिए। यहां ध्यान रहे कि विपक्षी पार्टियां भी इसी तरह की मांग कर रही हैं और सात चरणों में चुनाव कराए जाने को लेकर चुनाव आयोग पर सवाल उठाती रही है।

Nitish Kumar

नीतीश कुमार ने कहा, ”चुनाव इतने लंबे समय तक नहीं कराया जाना चाहिए, एक चरण से दूसरे चरण के बीच का अंतराल अधिक था। मैं चाहता हूं कि सर्वदलीय बैठक में मतदान को लेकर फैसला लिया जाए। कोशिश होने चाहिए कि फरवरी-मार्च या अक्टूबर-नवंबर में मतदान हो। गर्मी होने की वजह से चुनाव प्रक्रिया में लोगों की भागीदारी कम हो जाती है।”

नीतीश ने एक बार फिर एनडीए की सरकार बनने का भरोसा जताते हुए कहा, ‘मैंने तो सब दिन कहा है कि लोगों की सेवा करना ही हमारा धर्म है। जो भी काम हम लोगों ने बिहार में 13 वर्षों में किया है हम उसी का जिक्र करते रहे हैं। केंद्र सरकार ने भी जो सहायता किया है जो कुछ काम किया है प्रशंसनीय कार्य किया हम उसी की चर्चा करते हैं। हम सब लोग एनडीए गठबंधन में हैं। हम लोगों की ख्वाहिश तो यही है कि फिर से एनडीए की सरकार बने मोदीजी के नेतृत्व में।’