जामिया हिंसा में शामिल छात्रों की गिरफ्तारी पर रोक लगाने को लेकर हाईकोर्ट ने दिया झटका

कोर्ट ने प्रदर्शन के दौरान भड़की हिंसा और बाद में जामिया यूनिवर्सिटी में पुलिस कार्रवाई की जांच की मांग पर नोटिस जारी किया है जिसपर अगली सुनवाई 4 फरवरी को होगी।

Avatar Written by: December 19, 2019 4:07 pm

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जामिया इलाके में हिंसक प्रदर्शन करने वाले छात्रों की गिरफ्तारी को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट ने भी इंकार कर दिया है। इसके पहले सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाकर्ताओं से कहा था कि इस मामले में वो हाईकोर्ट जाएं।

delhi highcourt

हाईकोर्ट में अपील करने का आदेश दिया था

इससे पहले नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान जामिया यूनिवर्सिटी इलाके में हुई हिंसा और आगजनी की घटनाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाकर्ताओं को हाईकोर्ट में अपील करने का आदेश दिया था। इसके साथ ही कोर्ट ने हाईकोर्ट ही गिरफ्तारी पर फैसला लेने के लिए स्वतंत्र है। छात्रों की ओर से वकील इंदिरा जयसिंह सहित दो वकील पेश हुए थे।

Jamia Protest bus burnt

हाईकोर्ट ने भी किया इंकार

सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद अब हाईकोर्ट ने भी नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले छात्रों की गिरफ्तारी पर रोक लगाने से मना कर दिया है। बता दें कि कोर्ट ने प्रदर्शन के दौरान भड़की हिंसा और बाद में जामिया यूनिवर्सिटी में पुलिस कार्रवाई की जांच की मांग पर नोटिस जारी किया है जिसपर अगली सुनवाई 4 फरवरी को होगी।

delhi-high-court

चीफ जस्टिस के सामने ही लगे शेम-शेम के नारे

जब कोर्ट ने जामिया हिंसा में छात्रों के खिलाफ़ पुलिस एक्शन पर रोक लगाने से इंकार कर दिया तो चीफ जस्टिस के सामने कोर्ट में ही कुछ वकीलों ने ” shame !shame ! के नारे लगाए।

Support Newsroompost
Support Newsroompost