Connect with us

देश

इलियासी ने RSS प्रमुख मोहन भागवत को बताया राष्ट्रपिता, तो भड़के कट्टरपंथी, पाकिस्तान सहित इंग्लैंड से मिली ‘सिर तन से जुदा’ करने की धमकी

हालांकि, इलियासी ने इन धमकियों के आगे घुटने टेकने से साफ इनकार कर दिया है। उन्होंने स्पष्ट कर दिया है कि वे कट्टरपंथियों की धमकियों के आगे बिल्कुल भी नतमस्तक होने वाले नहीं है। चाहे कोई भी कुछ भी करे। वे अब तक देश में पारस्परिक भाईचारे को अब तक बढ़ाते हुए आए हैं और आगे भी बढ़ाते रहेंगे।

Published

on

नई दिल्ली। ऑल इंडिया इमाम आर्गेनाइजेशन के प्रमुख डॉ उमेर अहमद इलियासी को इंग्लैंड सहित पाकिस्तान से फोन कॉल पर ‘सिर तन से जुदा’ करने की धमकियां मिल रही हैं। दरअसल, उन्होंने बीते दिनों एक कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत को राष्ट्रपिता और राष्ट्रमुनि बता दिया था। जिसके बाद अब उन्हें जान से मारने की धमकी मिली है। वहीं तिलक नगर थाना पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेकर जांच का सिलसिला शुरू कर दिया है। इसके अलावा परिस्थितियों की गंभीरता को ध्यान में रखते उन्होंने अपने सभी पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों को निरस्त कर दिया है। हालांकि, इलियासी ने इन धमकियों के आगे घुटने टेकने से साफ इनकार कर दिया है। उन्होंने स्पष्ट कर दिया है कि वे कट्टरपंथियों की धमकियों के आगे बिल्कुल भी नतमस्तक होने वाले नहीं हैं। चाहे कोई भी कुछ भी करे। वे अब तक देश में भाईचारे को बढ़ाते हुए आए हैं और आगे भी बढ़ाते रहेंगे।

Mohan Bhagwat is rashtrapita and rashtrarishi of india says imam chief - वह  राष्ट्रपिता हैं; RSS चीफ मोहन भागवत से मुलाकात के बाद इमाम इलियासी

बता दें कि पाकिस्तान के अलावा इंग्लैंड से भी इलियासी को जान से मारने की धमकी दी जा रही है।  इसके अलावा अन्य मुस्लिम देशों से भी उन्हें जान से मारने की धमकियां दी जा रही हैं। जिसे गंभीरता से लेते हुए पुलिस अब कार्रवाई का सिलसिला शुरू कर चुकी है। ध्यान रहे कि इंग्लैंड में हाल ही में हिंदुओं को निशाना बनाया गया। इतना ही नहीं, कई मंदिरों पर भी हमला किया गया था, जिसे संज्ञान में लेने के बाद भारतीय उच्चायोग की तरफ से आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की गई थी। उधर, इंग्लैंड ने भी हिंसा में संलिप्त आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही थी।

मोहन भागवत बोले- भारत में रहने वाला हर व्यक्ति हिंदू, धर्म बदलने की किसी को  जरूरत नहीं - Mohan Bhagwat in rss function said every person living in  India is Hindu

गौरतलब है कि हाल ही में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने हिंदुराव स्थित मदरसा जाकर छात्रों से संवाद किया था। इस दौरान ऑल इंडिया मौलाना के प्रमुख इलियासी मौजूद थे। इस बीच उन्होंने मोहन भागवत को राष्ट्रपिता बताया था, जिसके बाद अब उन्हें कट्टरपंथियों की ओर से उन्हें जान से मारने की धमकियां दी जा रही हैं। बहरहाल, अब पुलिस पूरे मामले को संज्ञान में लेने के बाद क्या कुछ कार्रवाई करती है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी। तब तक के लिए आप देश दुनिया की तमाम बड़ी खबरों से रूबरू होने के लिए पढ़ते रहिए। न्यूज रूम पोस्ट.कॉम

Advertisement
Advertisement
Advertisement