Connect with us

देश

Praise: IMF ने अपनी रिपोर्ट में की PM मोदी की तारीफ, कहा- उन्होंने गरीबों को भूखे मरने से लिया बचा

आईएमएफ ने कहा है कि इस योजना के कारण भारत को भुखमरी को टालने में सफलता मिली। इससे अत्यंत गरीबी को भी मिटाया जा सका है। बता दें कि साल 2020 की 26 मार्च को पीएमजीकेवाई योजना शुरू हुई थी। इस योजना को इस साल सितंबर तक बढ़ाया जा चुका है।

Published

on

pm modi

नई दिल्ली। एक तरफ पड़ोसी देश श्रीलंका और पाकिस्तान में महंगाई की वजह से लोग भुखमरी का सामना कर रहे हैं। वहीं भारत में पिछले 2 साल से 80 करोड़ लोगों को पीएम नरेंद्र मोदी की सरकार PMGKY यानी पीएम गरीब कल्याण योजना के तहत मुफ्त राशन दे रही है। इस योजना की अब अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष IMF ने सराहना की है। आईएमएफ ने कहा है कि गरीबी पर लगे कोरोना के ग्रहण से तमाम देशों में आम नागरिकों की कमर टूट गई, लेकिन भारत में मोदी की इस अभिनव योजना से गरीबों को बचाया जा सका है।

imf

आईएमएफ ने कहा है कि इस योजना के कारण भारत को भुखमरी को टालने में सफलता मिली। इससे अत्यंत गरीबी को भी मिटाया जा सका है। बता दें कि साल 2020 की 26 मार्च को पीएमजीकेवाई योजना शुरू हुई थी। इस योजना को इस साल सितंबर तक बढ़ाया जा चुका है। योजना के तहत गरीब परिवारों को हर महीने 5 किलो गेहूं, 5 किलो चावल, दाल, नमक और सरसों का तेल दिया जाता है। जबकि, अति गरीबों को इसके अलावा एक किलो चीनी भी मुफ्त दी जा रही है। आईएमएफ ने महामारी, गरीबी और असमानता पर एक शोध पत्र जारी किया है। जिसमें ये बात सामने आई है कि भारत में 2019 तक अत्यंत गरीबी का स्तर 1 फीसदी से कम था। जिसे कोरोना महामारी के दौर में भी मोदी सरकार ने बरकरार रखा। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना ने अत्यंत गरीबी को रोकने में अहम रोल अदा किया। साथ ही कोरोना की वजह से पड़े आर्थिक दबाव औऱ गरीबों को बड़ा झटका लगने से रोकने में भी योजना ने मदद की।

आईएमएफ की रिपोर्ट में कहा गया है कि लगातार 2 साल तक अत्यंत गरीबी का स्तर कोरोना काल में इस योजना की वजह से स्थिर रहा। इसकी मदद से गरीबों पर बड़ा बोझ नहीं पड़ा और कोरोना के काल में जिन लोगों की आय अस्थिर थी, उन्हें सबसे ज्यादा मुश्किल का भले ही सामना करना पड़ा हो, लेकिन सरकार ने जिस तरह मदद का हाथ बढ़ाया, उससे गरीब की मदद की। रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2014 से 2019 के बीच गरीबी 2004 से 2011 की तुलना में ज्यादा थी। खास बात ये है कि मोदी सरकार ने गरीब कल्याण योजना के लिए पहले 26000 करोड़ का बजट रखा था।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
मनोरंजन4 days ago

Boycott Laal Singh Chaddha: क्या Mukesh Khanna ने Aamir Khan की फिल्म के बॉयकॉट का किया समर्थन, बोले-अभिव्यक्ति की आजादी सिर्फ मुस्लिमों के पास है, हिन्दुओं के पास नहीं

दुनिया1 week ago

Saudi Temple: सऊदी अरब में मिला 8000 साल पुराना मंदिर और यज्ञ की वेदी, जानिए किस देवता की होती थी पूजा

बिजनेस4 weeks ago

Anand Mahindra Tweet: यूजर ने आनंद महिंद्रा से पूछा सवाल, आप Tata कार के बारे में क्या सोचते हैं, जवाब देखकर हो जाएंगे चकित

milind soman
मनोरंजन6 days ago

Milind Soman On Aamir Khan: ‘क्या हमें उकसा रहे हो…’; आमिर के समर्थन में उतरे मिलिंद सोमन, तो भड़के लोग, अब ट्विटर पर मिल रहे ऐसे रिएक्शन

lulu mall namaz row arrest
देश3 weeks ago

UP: लखनऊ के लुलु मॉल में नमाज का वीडियो बनाने का मदरसा कनेक्शन आया सामने, पुलिस की पूछताछ में कई और खुलासे

Advertisement