दिल्ली चुनाव में मिली हार के बाद पार्टी के फैसले पर सवाल उठाने से नहीं चूके जयराम रमेश

दिल्ली में पार्टी की बुरी हार पर प्रतिक्रिया देते हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने सलाह दी है कि पार्टी खुद को निर्ममता से पुनर्जीवित करे अन्यथा कांग्रेस पार्टी अप्रासंगिक होने की संभावना के लिए तैयार रहे।

Written by: February 13, 2020 5:21 pm

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव में जिस तरह से कांग्रेस एक बार फिर से अपना खाता तक नहीं खोल पाई और लगातार दूसरी बार विधानसभा चुनाव में शून्य पर सिमट गई, उसके बाद पार्टी के भीतर से आवाज उठने लगी है। इस मामले को लेकर जहां एक तरफ कांग्रेस पार्टी में लगातार इस्तीफे का सिलसिला जारी है वहीं दूसरी तरफ पार्टी के कई नेता पार्टी की कार्यशैली पर सवाल खड़ा करने से भी नहीं चूक रहे हैं।jairam ramesh

दिल्ली में पार्टी की बुरी हार पर प्रतिक्रिया देते हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने सलाह दी है कि पार्टी खुद को निर्ममता से पुनर्जीवित करे अन्यथा कांग्रेस पार्टी अप्रासंगिक होने की संभावना के लिए तैयार रहे।Jairam Ramesh,Congress

इससे पहले हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने दिल्ली में कांग्रेस पार्टी की हार को लेकर नसीहत दी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लिए गंभीर आत्मचिंतन और मंथन का वक्त है। भूपेंद्र सिंह हुड्डा का कहना है कि इन नतीजों पर पार्टी को जरूर मंथन करना चाहिए और देखना चाहिए कि कांग्रेस की देश को जरूरत है।

हुड्डा ने कहा, ‘कुछ ऐसे फैसले पार्टी ने लिए हैं। लेकिन ये सब कुछ अब आलाकमान को देखना है लेकिन हरियाणा में भी अगर फैसला पहले लिया जाता तो निश्चित तौर पर नतीजे कुछ और होते।’

दिल्‍ली में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन पर सिंधिया का फूटा गुस्सा

कांग्रेस नेता और पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी के बाद अब पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिल्ली चुनाव में मिली करारी शिकस्त को लेकर पार्टी की रणनीति पर सवाल खड़े किए हैं।

हैरान करने वाली बात ये है कि कभी दिल्ली की सत्ता में लंबे समय तक काबिज रहने वाली कांग्रेस को 2015 और 2020 के विधानसभा चुनावों में बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा है। इतना ही हाल ही में खत्म हुए चुनावों में तो कांग्रेस का पहले मुकाबले और भी बुरा हाल रहा और वह 70 सीटों में से 63 पर अपनी जमानत जब्‍त करा बैठी।

jyotiraditya scindia

कांग्रेस के खराब प्रदर्शन पर कांग्रेस के राष्‍ट्रीय महासचिव ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने कहा कि दिल्‍ली का परिणाम बहुत निराशाजनक है। लिहाजा पार्टी में नई सोच और नई कार्यप्रणाली की बहुत सख्‍त जरूरत है। साथ ही उन्‍होंने कहा कि 2019 लोकसभा चुनावों के बाद कई राज्‍यों में ना सिर्फ शानदार प्रदर्शन किया है बल्कि सरकार भी बनायी है।

बता दें कि दिल्ली चुनाव में शर्मनाक हार के बाद दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा और दिल्ली स्टेट इंचार्ज पीसी चाको ने हार की जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया था, जिसे सोनिया गांधी ने स्वीकार कर लिया।