झारखंड चुनाव: अमित शाह के बयान को गलत तरीके से किया गया पेश, वीडियो से सच्चाई आई सामने

अमित शाह के बयान को गलत तरीके से पेश किया गया जिससे लोगों को लगे भाजपा कमजोर हो रही है। लेकिन अब जो सच्चाई सामने आई है उसे देखकर विरोधियों को पता चल जाएगा कि आखिरकार अमित शाह ने क्या कहा था।

Written by: November 29, 2019 2:00 pm

नई दिल्ली। झारखंड में पहले चरण का चुनाव प्रचार समाप्त हो चुका है और इस दौरान भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने ताबड़तोड़ रैलियां कर भाजपा को मजबूती पहुंचाने का काम किया है। लेकिन गुरुवार 29 नवंबर को जब अमित शाह झारखंड के चतरा में एक रैली को संबोधित करने गए, तो उससे जुड़ी खबर मीडिया पर काफी ज्यादा वायरल हो रही है।

amit shah

दरअसल, कई मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि, जिस रैली को संबोधित करने अमित शाह पहुंचे थे वहां भीड़ कम थी और इसे देखकर अमित शाह थोड़ मायूस हो गए और उन्होंने कहा कि, इतनी सी भीड़ से हम नहीं जीत सकते हैं।


झारखंड में भाजपा काफी मजबूत स्थिति में है और यही चीज विपक्षी पार्टियों को परेशान कर रही है। इसलिए अमित शाह के बयान को गलत तरीके से पेश किया गया जिससे लोगों को लगे भाजपा कमजोर हो रही है। लेकिन अब जो सच्चाई सामने आई है उसे देखकर विरोधियों को पता चल जाएगा कि आखिरकार अमित शाह ने क्या कहा था।

amit shah

दरअसल, अमित शाह ने कहा था कि, सिर्फ इस जनसभा में 20000-25000 लोगों के आने भर से जीत नहीं होगी, यह सभा समाप्त होने के 2 घंटे के भीतर यहां आये सभी लोग अपने भैया-भाभी, बुआ-फूफा, चाचा-चाची, मामा-मामी जैसे 50 करीबियों को फोन करके कमल के फूल पर वोट करने को बोले और मोदी जी के हाथ मजबूत करे।

amit shah

लेकिन जो खबर अन्य जगह पर चल रही है उसके मुताबिक, अमित शाह कम भीड़ देखकर भाजपा के कार्यकर्ताओं से नाराज हो गए थे और उन्होंने सख्त लहजे में पूछा था कि, क्या इतनी सी भीड़ से आप विधायक बन जाओगे। अब जब असली वीडियो सामने आ गया है तो सारी सच्चाई भी सामने आ गई है।