मध्य प्रदेश : कमलनाथ सरकार में मंत्री जीतू पटवारी ने अपने ही कार्यकर्ता को मारी लात

सोमवार को रीवा में जीतू पटवारी प्रेस कांफ्रेंस कर रहे थे, इस दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं को कक्ष से बाहर जाने के लिए कहा, जिसमें से एक कार्यकर्ता बाहर नहीं गया। जिसपर जीतू पटवारी बिफर गए।

Written by: December 31, 2019 2:19 pm

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश में उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं पर ऐसे गुस्सा हुए कि उन्होंने एक कार्यकर्ता को लात मार दी। दरअसल सोमवार को रीवा में जीतू पटवारी प्रेस कांफ्रेंस कर रहे थे, इस दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं को कक्ष से बाहर जाने के लिए कहा, जिसमें से एक कार्यकर्ता बाहर नहीं गया। जिसपर जीतू पटवारी बिफर गए।

Jitu Patwari kamalnath

उक्त कार्यकर्ता के बाहर ना जाने पर जीतू पटवारी ऐसे भड़के कि उन्होंने गुस्से में पहले उसके पैर में जोर से लात मारी, फिर मुक्का जमाया। बाद में उसे कमरे से बाहर कर दिया। दरअसल, पटवारी के सामने कांग्रेस के दो धड़े आमने-सामने हो गए थे। वे मंत्री से अपनी बात रखना चाह रहे थे। प्रेस कॉन्फ्रेंस का समय हो गया था। मंत्री ने कार्यकर्ताओं को बाहर जाने के लिए कहा, जिसके बाद विवाद की स्थिति बनने और भीड़ नहीं हटने पर पटवारी बिफर गए। मंत्री के सामने कई बार धक्का-मुक्की हुई, लेकिन पुलिस ने हस्तक्षेप नहीं किया।

Jitu patwari

प्रेस कांफ्रेंस के बाद पटवारी को अतिथि विद्वानों ने घेर लिया। मंत्री और अतिथि विद्वानों में काफी नोंक-झोंक हुई। अतिथि विद्वान यह आरोप लगा रहे थे कि मध्यप्रदेश के सरकारी कॉलेजों में जो अतिथि विद्वान पिछले 25 वर्ष से पठन-पाठन की व्यवस्था चला रहे हैं, उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। असिस्टेंट प्रोफेसरों की नियुक्ति कॉलेजों में किए जाने के साथ ही अतिथि विद्वानों को बाहर किया जा रहा है। इस पर मंत्री ने कहा कि नियमितीकरण के लिए एक कमेटी बनाई गई है। किसी भी अतिथि विद्वान के साथ गलत नहीं होगा।

Jitu patwari Hit to party worker

इससे पहले उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने रीवा में शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय परिसर में छात्रावास और ऑडिटोरियम का लोकार्पण किया। मंत्री श्री पटवारी ने यहां युवा संवाद कार्यक्रम में छात्राओं की मांग पर रीवा में एक और कन्या महाविद्यालय स्थापित किए जाने की घोषणा की।