हेमंत सोरेन ने झारखंड के 11 वें मुख्यमंत्री के रूप में ली शपथ, समारोह में कई नेता हुए शामिल

झारखंड के 11 वें मुख्यमंत्री के तौर पर हेमंत सोरेन ने शपथ ग्रहण किया। हेमंत सोरेन की पार्टी झामुमो कांग्रेस और राजद के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन कर मैदान में उतरी थी।

Written by: December 29, 2019 2:52 pm

नई दिल्ली/रांची। रांची के मोहराबादी मैदान में आज झारखंड सरकार के गठन का कार्यक्रम रखा गया। जिसमें झारखंड के 11 वें मुख्यमंत्री के तौर पर हेमंत सोरेन ने शपथ ग्रहण किया। हेमंत सोरेन की पार्टी झामुमो कांग्रेस और राजद के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन कर मैदान में उतरी थी और भाजपा को मात देकर इस गठबंधन ने राज्य के चुनाव में बहुमत हासिल किया। Hemant Soren Oath हेमंत सोरेन ने दूसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण किया है। इससे पहले 2013 में भी हेमंत सोरेन राज्य के मुख्यमंत्री के तौर पर अपनी जिम्मेवारी निभा चुके हैं।Mamta Banerjee Hemant Soren oath1

राज्यपाल द्रोपदी मुर्मू ने हेमंत सोरेन को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई। हेमंत सोरेन के अलावा कांग्रेस के विधायक आलमगीर आलम, रामेश्वर उरांव और आरजेडी विधायक सत्यानंद भोक्ता ने हेमंत सोरेन के साथ मंत्री पद की शपथ ली।Mamta Banerjee Hemant Soren oath

पाकुड़ से कांग्रेस के विधायक आलमगीर आलम ने हेमंत सरकार कैबिनेट में मंत्रीपद की शपथ ली। आलमगीर आलम झारखंड के स्पीकर भी रह चुके हैं।Hemant Soren

शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए वामपंथी नेता सीताराम येचुरी, डी राजा और अतुल अंजान भी मोरहाबादी मैदान पहुंचे। इसके अलावा शरद यादव भी रांची पहुंचे। वहीं राहुल गांधी भी मोरहाबादी मैदान में मंच पर नजर आए। Hemant Soren Sibu Soren Rahul Gandhiउत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव भी कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह के साथ मंच पर मौजूद थे। वहीं शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कल ही रांची पहुंच गई थीं।Hemant Soren & Mamta Banerjee

डीएमके के कई वरिष्ठ नेता भी हेमंत सोरेन के शपथग्रहण में शामिल होने के लिए रांची पहुंचे। डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन खुद रांची पहुंचे। इसके अलावा सांसद टीआर बालू और सांसद कनिमोझी भी रांची पहुंची हैं।Rahul Gandhi Stalin Hemant Soren oath

इसके अलावा राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल भी रांची पहुंचे तो वहीं असम के पूर्व सीएम तरूण गोगोई भी रांची पहुंचे। वहीं आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह भी हेमंत सोरेन के शपथ ग्रहण में शामिल होने रांची पहुंच गए।


राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता शरद पवार रांची नहीं आ रहे हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि वे रांची नहीं आ पा रहे हैं, उन्होंने हेमंंत सरकार को शुभकामनाएं दी है।

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने स्वास्थ्य कारणों से रांची आने में असमर्थता जाहिर की है। हेमंत सोरेन ने उन्हें भी न्यौता दिया था। प्रणब मुखर्जी ने झारखंड की नई सरकार को बधाई दी है और कहा है कि उन्हें जिस काम के लिए जनमत मिला है उसे वे पूरा करेंगे।


शपथ ग्रहण समारोह को लेकर राजधानी रांची में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए थे। सुरक्षा में कोई चूक न हो, इसका पूरा ख्याल रखा जा रहा था। शपथ ग्रहण समारोह तथा दूसरे राज्यों से आने वाले अतिथियों की सुरक्षा में 2500 जवान, 500 अधिकारी तथा दर्जनभर आइपीएस अधिकारी लगाए गए थे। सुरक्षा की ओवर ऑल जिम्मेदारी रांची जोन के आइजी नवीन कुमार सिंह को सौंपी गई थी।