कर्नाटक: बागी विधायकों को सुप्रीम कोर्ट से झटका, CJI ने कहा- स्पीकर को क्या करना है हम तय नहीं करेंगे

कर्नाटक के 15 बागी विधायकों के मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने कहा कि, अगर हम आपकी बात मानें, तो क्या हम स्पीकर को कोई ऑर्डर दे सकते हैं ?

Written by: July 16, 2019 12:15 pm

नई दिल्ली। कर्नाटक के 15 बागी विधायकों के मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने कहा कि, अगर हम आपकी बात मानें, तो क्या हम स्पीकर को कोई ऑर्डर दे सकते हैं ? आप ही बताएं कि ऐसे में क्या ऑर्डर हम दे सकते हैं ? दरअसल, बागी विधायकों की तरफ से मुकुल रोहतगी ने कहा कि विधायक कोई ब्यूरोक्रेट या कोई नौकरशाह नहीं हैं, जो कि इस्तीफा देने के लिए उन्होंने कोई कारण बताना पड़े।

Supreme-Court

बागी विधायकों की तरफ से मुकुल रोहतगी ने इस दौरान केरल, गोवा, तमिलनाडु हाईकोर्ट के कुछ फैसलों के बारे में बताया। जिसमें स्पीकर को पहले इस्तीफे पर विचार करने को कहा गया है और अयोग्य के लिए फैसले को बाद में। उन्होंने कहा कि केरल की अदालत ने तो तुरंत इस्तीफा स्वीकार करने की बात कही थी।

karnataka 1

चीफ जस्टिस ने इस दौरान कहा कि हम ये तय नहीं करेंगे कि विधानसभा स्पीकर को क्या करना चाहिए, यानी उन्हें इस्तीफा स्वीकार करना चाहिए या नहीं। हालांकि, हम सिर्फ ये देख सकते हैं कि क्या संवैधानिक रूप से स्पीकर पहले किस मुद्दे पर निर्णय कर सकता है। CJI ने कहा कि कोर्ट ये तय नहीं करेगा कि स्पीकर को क्या करना है।