राम की नगरी अयोध्या में आज पीएम मोदी की रैली, लेकिन नहीं करेंगे रामलला के दर्शन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को अयोध्या में आ रहे हैं । 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद पांच साल में यह पहला मौका है जब पीएम मोदी भगवान राम की नगरी अयोध्या पहुंच रहे हैं। यहां पीएम मोदी एक रैली को संबोधित करने वाले हैं।

Written by: May 1, 2019 8:43 am

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को अयोध्या में आ रहे हैं । 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद पांच साल में यह पहला मौका है जब पीएम मोदी भगवान राम की नगरी अयोध्या पहुंच रहे हैं। यहां पीएम मोदी एक रैली को संबोधित करने वाले हैं। रैली स्थल रामजन्मभूमि से 28 किमी दूर है। वह यहां करीब एक घंटा बिताएंगे। कहा जा रहा है कि अयोध्या आकर भी पीएम नरेंद्र मोदी श्री रामलला और हनुमानगढ़ी मंदिर के दर्शन नहीं कर पाएंगे।

pm modi

भारतीय जनता पार्टी की ओर से दावा किया जा रहा है कि पीएम की रैली में क़रीब 5 लाख लोग जुट सकते हैं। तय कार्यक्रम के मुताबिक प्रधानमंत्री सुबह 10.50 बजे अयोध्या में मयाबाजार में बनाए गए हेलीपैड पर पहुंचेंगे। यहां से सड़क मार्ग से कार्यक्रम स्थल पहुंचकर जनसभा को संबोधित करेंगे। दोपहर 11 बजे से 11.40 तक जनसभा स्थल पर उनकी मौजूदगी होगी। 11.45 बजे सभा स्थल से सड़क मार्ग से होते हुए हेलीपैड पहुंचेंगे।

यहां से पीएम कौशांबी के लिए प्रस्थान करेंगे। कौशांबी में भाजपा उम्मीदवार के समर्थन में मोदी भरवारी स्थित भवंस मेहता विद्याश्रम में चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे। उनका हेलीकाप्टर 1ः05 बजे भवंस मेहता पीजी कॉलेज में उतरेगा। नजदीक ही बने सभास्थल पर 1ः15 बजे पहुचेंगे। जनसभा संबोधित कर वे दो बजे प्रयागराज एयरपोर्ट के लिए रवाना हो जाएंगे।

बता दें कि राम मंदिर आंदोलन से लेकर अब तक भाजपा के दो ही ऐसे नेता रहे हैं, जिन्होंने रामलला से दूरी बनाए रखी है। भाजपा के उन नेताओं में पहला नाम है भाजपा के संस्थापक सदस्यों में से एक और पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी और दूसरा प्रधानमंत्री मोदी का है।

pm modi 2

ऐसा माना जा रहा है कि पीएम मोदी सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ही अयोध्या आना चाहते हैं क्योंकि देश में लोकसभा का चुनाव हो रहा है और उनका प्रत्याशियों के लिए रैली करना पार्टी ने तय किया है। ऐसे में फैजाबाद और अंबेडकरनगर की सीमा पर होने वाली रैली को भी वह मना नहीं कर सके।