विपक्ष के विरोध के बीच लोकसभा में पास हुआ नागरिकता संशोधन बिल

विपक्ष के विरोध के बावजूद सोमवार देर रात को लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल पास कर दिया गया। करीब 7 घंटे तक चली तीखी बहस के बाद ये बिल पास हुआ, जिसे मोदी सरकार की बड़ी कामयाबी मानी जा रही है।

Written by: December 10, 2019 9:25 am

नई दिल्ली। विपक्ष के विरोध के बावजूद सोमवार देर रात को लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल पास कर दिया गया। करीब 7 घंटे तक चली तीखी बहस के बाद ये बिल पास हुआ, जिसे मोदी सरकार की बड़ी कामयाबी मानी जा रही है। हालांकि लोकसभा में तो बिल पास हो गया लेकिन अब राज्यसभा की बारी है।यह विधेयक बुधवार को राज्यसभा में पेश किया जाएगा।

Amit Shah

सोमवार रात करीब ग्यारह बजे गृहमंत्री अमित शाह ने विपक्षी नेताओं की ओर से उठाए गए सवालों का जवाब दिया। इसके बाद सोमवार रात 11:35 बजे लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने कहा गृहमंत्री की ओर से सारे बिदुओं को स्पष्ट किया जा चुका है, इसके बाद नहीं लगता है कि किसी को कोई कन्फ्यूजन रह गया होगा।

Amit Shah

इसके बाद लोकसभा स्पीकर ने बिल पर वोटिंग कराया। लोकसभा स्पीकर ने बारी-बारी से विपक्षी नेताओं की ओर से जताई गई आपत्तियों पर मौखिक वोटिंग कराकर उसे क्लियर कराया। सारी अपत्ति खारिज होने के बाद विधेयक पर मत विभाजन कराया गया, जिसके बाद लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने नागरिकता संशोधन बिल 2019 को पास करने की घोषणा की। विधेयक के पक्ष में 311 और विपक्ष में 80 वोट पड़े। खास बात यह है कि इस बिल के पक्ष में भाजपा की पुरानी सहेयागी शिवसेना ने भी सहयोग किया।

नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 लोकसभा में पास होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गृहमंत्री अमित शाह की जमकर प्रशंसा की।

एक ओर मोदी सरकार इस बिल के पास होने का जश्न मना रही है तो विपक्ष पूरी तरह से इसका विरोध कर रही है। कांग्रेस सांसद शशि थरूर का कहना है कि आज लोकतंत्र के लिए काला दिन है, क्योंकि संविधान से उलट इस बिल को पास किया गया है।