महाराष्ट्र: इस्तीफा सौंपने के बाद बोले फडणवीस- ढाई साल का CM फॉर्मूला शिवसेना का बहाना

महाराष्ट्र में जारी घमासान के बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने राज्यपाल से मिलने के बाद अपना इस्तीफा सौंप दिया है। महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना के बीच सरकार बनाने को लेकर घमासान जारी है

Written by: November 8, 2019 4:34 pm

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में जारी घमासान के बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने राज्यपाल से मिलने के बाद अपना इस्तीफा सौंप दिया है। महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना के बीच सरकार बनाने को लेकर घमासान जारी है और अब राज्यपाल को फैसला लेना है। जहां शिवसेना 50-50 फॉर्मूले पर अड़ी है, तो वहीं भाजपा ने ऐसे किसी भी वादे से इनकार किया है।

Maharashtra

राज्यपाल को इस्तीफा सौंपने के बाद फडणवीस ने कहा कि, मैंने 5 सालों तक महाराष्ट्र की सेवा की और अब कार्यकाल खत्म होने के बाद अपना इस्तीफा सौंप दिया है। उन्होंने बताया कि, राज्यपाल ने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है।

इससे पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, ‘‘अगर राज्य में राष्ट्रपति शासन लगता है तो यह जनादेश का अपमान होगा। महाराष्ट्र न तो झुक रहा है, न दिल्ली के सामने कभी झुकेगा। भाजपा से आगे न पीछे, न अंडरग्राउंड किसी भी तरह से कोई बात नहीं हुई है।’’

Sanjay Raut, Shiv Sena

आपको बता दें, 9 नवंबर यानि के कल राज्य की मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल खत्म हो रहा है। फिलहाल, ऐसे में सरकार गठन को लेकर चल रहे प्रयासों का आज अंतिम दिन माना जा रहा है।

भाजपा बनी सबसे बड़ी पार्टी

फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र ने हमें लोकसभा चुनावों के दौरान एक बड़ा जनादेश मिला और यहां तक कि विधानसभा में भी हमें सहयोगी के रूप में चुनावों का सामना करना पड़ा। महायुति (महागठबंधन) को स्पष्ट जनादेश मिला। हम 160 से अधिक सीट जीतने में सफल रहे। बीजेपी 105 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी।

Fadanvis

फडणवीस ने शिवसेना को कहा धन्यवाद

मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि मेरे पास अच्छी खबर है। मेरा इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया है। मुझे महाराष्ट्र की सेवा करने का मौका मिला। मैं महाराष्ट्र, मोदी, शाह, नड्डा और हमारे सभी नेताओं का शुक्रगुज़ार हूं। प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिवसेना का नाम लिए बिना फडणवीस ने मुस्कराते हुए कहा कि सहयोगी को धन्यवाद।

ढाई-ढाई साल का नहीं हुआ था वादा- फडणवीस

फडणवीस ने कहा कि ढाई ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद को लेकर कोई वादा नहीं हुआ था। मेरे सामने कभी भी ढाई साल सीएम पद को लेकर चर्चा नहीं हुई। उद्धव ने सरकार बनाने की बात कही थी। महाराष्ट्र में जनादेश गठबंधन को मिला था।

NCP से चर्चा बेवजह- फडणवीस

Fadanvis Maharashtra

फडणवीस ने कहा कि मैंने खुद फोन कर उद्धव ठाकरे से फोन पर बात की थी। उद्धव ठाकरे के करीबी लोग बेवजह बयानबाजी कर रहे हैं। जब चुनाव साथ मिलकर लड़े थे तो फिर एनसीपी से चर्चा क्यों की जा रही है।

50-50 पर नहीं हुई कोई बात- फडणवीस

फडणवीस ने कहा कि मैंने उद्धव ठाकरे के साथ कई मुद्दों पर काम किया है, लेकिन इस बार मैंने उद्धव ठाकरे को फोन किया तो उन्होंने मुझसे बात नहीं की। शिवसेना और बीजेपी के बीच सीएम पद को लेकर 50-50 पर मेरे सामने कभी कोई निर्णय नही हुआ। मैंने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, नितिन गडकरी से भी इस बारे में पूछा, लेकिन उन्होंने भी सीएम पर 50-50 फॉर्मूले पर किसी भी तरह के फैसले से इनकार किया।