महाराष्ट्र: अजित पवार फिर बने डिप्टी सीएम, आदित्य ठाकरे ने ली मंत्री पद की शपथ

महाराष्ट्र में सोमवार को उद्धव सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार हुआ। कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के खाते से कुल 36 नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली। अजित पवार एक बार फिर राज्य के उपमुख्यमंत्री बने हैं, महीने में दूसरी बार उन्होंने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली।

Written by: December 30, 2019 1:18 pm

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में सोमवार को उद्धव सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार हुआ। कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के खाते से कुल 36 नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली। अजित पवार एक बार फिर राज्य के उपमुख्यमंत्री बने हैं, महीने में दूसरी बार उन्होंने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली। पहली बार आदित्य ठाकरे ने भी कैबिनेट मंत्री की जिम्मेदारी संभाली।

Ajit Pawar

 

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे ने भी कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली है। आदित्य ठाकरे पहली बार वर्ली से चुनाव जीतकर आए हैं। ठाकरे परिवार में चुनाव लड़ने वाले आदित्य पहले सदस्य हैं।

शिवसेना के उदय सामंत ने मंत्री पद की शपथ ली। रत्नागिरि से विधायक हैं और पेशे से इंजिनियर हैं।

शिवसेना के अनिल परब ने मंत्री पद की शपथ ली।

कांग्रेस की यशोमति ठाकुर ने मंत्री पद की शपथ ली। अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी की सचिव हैं। तिबसा सीट से विधायक हैं।

शिवसेना से गुलावराव पाटिल ने मंत्री पद की शपथ ली। जलगांव ग्रामीण से विधायक हैं। 2014 की भाजपा-शिवसेना सरकार में राज्यमंत्री रह चुके हैं। शिवसेना के उत्तर महाराष्ट्र के नेता हैं।

कांग्रेस के अमित देशमुख ने ली कैबिनेट मंत्री पद की शपथ। वह पूर्व मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख के बेटे और अभिनेता रितेश देशमुख के भाई हैं। लातूर शहर सीट से विधायक हैं।

एनसीपी के नवाब मलिक ने मंत्री पद की शपथ ली, पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं, मुंबई के अणुशक्ति नगर से विधायक हैं।

कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली है। अशोक चव्हाण राज्य के पूर्व सीएम शंकर राव चव्हाण के बेटे हैं।

एनसीपी के दिलीव वलसे पाटिल ने ली कैबिनेट मंत्री की शपथ, शरद पवार के करीबी हैं।

एनसीपी के धनंजय मुंडे ने ली कैबिनेट मंत्री पद की शपथ, भाजपा की वरिष्ठ नेता पंकजा मुंडे को हराया, अजित पवार के करीबी हैं।