मंत्री पद नहीं मिलने से महाराष्ट्र सरकार में शुरू हुआ नाराजगी का दौर, उद्धव के सबसे खास नेता नाराज!

पीडब्ल्यूपी की अध्यक्ष जयंत पाटिल भी नाराज हैं और उनकी पार्टी के एक विधायक हैं। ऐसे ही बहुजन विकास आघाड़ी के अध्यक्ष हितेंद्र ठाकुर भी कैबिनेट में जगह न मिलने से खफा हैं।

Written by: December 31, 2019 3:00 pm

नई दिल्ली। महाराष्ट्र विकास आघाड़ी सरकार में अब नाराजगी का दौर शुरू हो गया है। इस नाराजगी में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के कई नेता नाराज दिखाई दे रहे हैं। सोमवार को उद्धव ठाकरे सरकार में मंत्रिमंडल सरकार का विस्तार तो हुआ लेकिन कई ऐसे चेहरे मंत्री बनने से रह गए जो आस लगाए बैठे थे।

Sanjay Raut, Shiv Sena

संजय राउत नाराज!

अब जिन्हें मंत्री पद नहीं मिला वो अपनी नाराजगी साफ जाहिर कर रहे हैं। सबसे पहले तो उद्धव ठाकरे के खास संजय राउत नाराज दिखाई दे रहे हैं। बता दें कि संजय राउत के भाई और शिवसेना विधायक सुनील राउत को भी मंत्री नहीं बनाया गया है। यही नहीं कैबिनेट में संजय राउत के करीबी विधायकों को भी जगह नहीं मिल सकी है। संजय राउत विधानसभा चुनाव के बाद शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस का गठबंधन बनाने के समर्थन में काफी मुखर रहे थे। माना जा रहा है कि संजय राउत इसी नाराजगी की वजह से शपथ ग्रहण समारोह में उपस्थित नहीं हुए थे।

सुनील राउत के अलावा भी मंत्री के कई दावेदर पद न मिलने से नाराज माने जा रहे हैं। शिवसेना विधायक प्रताप सारनिक, तानाजी सावंत, सुनील प्रभु, रवींद्र वायकर, भास्कर जाधव और रामदास कदम भी शपथ ग्रहण समारोह में नहीं पहुंचे।

sharad pawar

एनसीपी के कुछ विधायक नाराज

दूसरी तरफ एनसीपी विधायक प्रकाश सोलंके ने बगावती रुख अख्तियार कर लिया है और स्वाभिमानी शेतकरी संगठन के नेता राजू शेट्टी भी कैबिनेट से नजरअंदाज किए जाने के चलते नाराज हैं। एनसीपी प्रमुख शरद पवार के करीबी प्रकाश शोलंके चार बार से विधायक हैं, लेकिन उन्हें मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली है। इससे वो इस कदर खफा है कि उन्होंने राजनीति छोड़ने का ही फैसला कर लिया है।

महाराष्ट्र के बीड जिले के मजलगांव सीट से एनसीपी विधायक प्रकाश सोलंके ने विधानसभा सदस्यता से इस्तीफा और राजनीति से सन्यास लेने की घोषणा कर दी है। उन्होंने कहा कि वह राजनीति करने के लिए अयोग्य हैं। वो मंगलवार को  दोपहर में विधानसभा अध्यक्ष से मिलकर अपना इस्तीफा देंगे। हालांकि उन्‍होंने स्‍पष्‍ट किया कि मेरे इस्‍तीफे का कैबिनेट विस्‍तार से कोई संबंध नहीं है।

पीडब्ल्यूपी की अध्यक्ष जयंत पाटिल भी नाराज हैं और उनकी पार्टी के एक विधायक हैं। ऐसे ही बहुजन विकास आघाड़ी के अध्यक्ष हितेंद्र ठाकुर भी कैबिनेट में जगह न मिलने से खफा हैं।

Prithviraj Chavan

कांग्रेसी नेता भी नाराज

इसके अलावा ख़बरों की मानें तो पूर्व मुख्यमंत्री और राज्य के वरिष्ठ नेता पृथ्वीराज चव्हाण, पूर्व मंत्री नसीम खान, तीन बार की विधायक प्रणीति शिंदे सहित संग्राम थोपते, अमीन पटेल, रोहिदास पाटिल जैसे नेता नाराज़ हैं। इनमें से कुछ ने मल्लिकार्जुन खड़गे से मुलाक़ात कर अपनी नाराज़गी जताई है।