ट्रेन से बाहर गिरा शख्स, आंतें शर्ट से बांध 9 K.M पैदल चल पहुंचा अस्पताल

हैरानी वाली बात यह है कि गंभीर रूप से घायल हो चुके शख्स ने हिम्मत न हारते हुए घाव को शर्ट से कस लिया और अस्पताल पहुंचने से पहले नौ किलोमीटर की दूरी

Written by: July 24, 2019 4:56 pm

नई दिल्ली। तेलंगाना के वारंगल जिले से एक बड़ा ही दर्दनाक मामला सामने आया है, जहां एक शख्स चलती ट्रेन से गिर गया और उसकी आंतें बाहर आ गईं। हैरानी वाली बात यह है कि गंभीर रूप से घायल हो चुके शख्स ने हिम्मत न हारते हुए घाव को शर्ट से कस लिया और अस्पताल पहुंचने से पहले नौ किलोमीटर की दूरी तय की।

मामले पर रेलवे पुलिस का कहना है कि तीन दिनों पहले सुनील चौहान (24) अपने भाई प्रवीण और अन्य प्रवासी मजदूरों के साथ उत्तर प्रदेश के बलिया जिले से संघमित्रा एक्सप्रेस में आंध्र प्रदेश के नेल्लोर के लिए सवार हुआ था। तड़के सुबह तकरीबन 2 बजे जब ट्रेन ने तेलंगाना के हसनपर्थी के नजदीक उप्पल स्टेशन को पार किया तभी सुनील पेशाब करने अपनी बर्थ से बाहर निकला।

railway track

जीआरपी इन्स्पेक्टर ने बताया कि टॉइलट से निकलते वक्त सुनील वॉश बेसिन के नजदीक रुक गया लेकिन दरवाजा खुला होने की वजह से वह ट्रेन के बाहर गिर गया। इस घटना में वह गंभीर रूप से चोटिल हो गया। सुनील को गिरते हुए किसी ने नहीं देखा। गिरने की वजह से सुनील के पेट में गंभीर चोट आई और उसकी आंतें बाहर आ गईं।’

घायल सुनील की हुई इमर्जेंसी सर्जरी
असहनीय दर्द से जूझ रहे सुनील ने कुछ देर बाद अपनी अंतड़ियों को वापस पेट के अंदर की ओर दबाया और घाव पर शर्ट को जोर से बांध लिया। इसके बाद वह अंधेरे में ट्रैक पर चलने लगा। स्वामी कहते हैं, ‘अपने घाव को हाथ से दबाकर सुनील हसनपर्थी स्टेशन पहुंचे, जो कि उनके गिरने वाली जगह से नौ किलोमीटर की दूरी पर है।’