जब मनोहर पर्रिकर के एक फैसले ने बचा लिए देश के 49,300 करोड़ रुपये

पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने अपने कार्यकाल में रूस से हथियारों की खरीद में कुछ ऐसे ठोस कदम उठाए जिसकी वजह से देश के 49,300 करोड़ रुपये बच गए। बता दें कि रूस द्वारा एस 400 की खरीददारी को लेकर पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने इसकी समीक्षा के आदेश दिए।

Written by: March 18, 2019 1:39 pm

नई दिल्ली। पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने अपने कार्यकाल में रूस से हथियारों की खरीद में कुछ ऐसे ठोस कदम उठाए जिसकी वजह से देश के 49,300 करोड़ रुपये बच गए। बता दें कि रूस द्वारा एस 400 की खरीददारी को लेकर पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने इसकी समीक्षा के आदेश दिए।

इकॉनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक, एस 400 की कम दूरी, मध्यम दूरी और लंबी दूरी की मिसाइलें खरीदी जानी थीं पर पर्रिकर के आदेश के बाद एयर फोर्स ने तकनीकी अध्ययन करने और दुनिया के दूसरे देशों के एयर डिफेंस सिस्टम की समीक्षा करने के बाद पाया गया कि कम और मध्यम दूरी के मिसाइलों को कम संख्या में खरीदा जा सकता है।

दरअसल, एयर डिफेंस स्ट्रैटेजी तीन स्तरों की होती है। 25 किमी तक की दूरी से अति गंभीर उपकरणों की सुरक्षा के लिए कम दूरी वाले सिस्टम, 40 किमी तक की मध्यम दूरी वाले सिस्टम और इससे ज्यादा दूरी के खतरों से रक्षा के लिए लंबी दूरी से सिस्टम का प्रयोग किया जाता है।

s400 Missile

 

पर पूर्व रक्षामंत्री ने वायुसेना को इस बात के लिए सहमत किया कि लंबी दूरी के सिस्टम की खरीददारी के बाद कम व मध्यम दूरी वाले इन हथियारों की उपयोगिता बहुत नहीं रह जाएगी, इसलिए तय हुआ कि कम व मध्यम दूरी के सिर्फ सौ-सौ सिस्टम ही खरीदे जाएं।

s400 Missile

बता दें कि एस400 के पांच सिस्टम्स की लागत 6.1 अरब डॉलर (करीब 427 अरब रुपये) आने का अनुमान है। भारत ने अब तक इतना महंगा एयर डिफेंस सिस्टम नहीं खरीदा है, हालांकि, प्रति वर्गफुट कवरेज एरिया के लिहाज़ से देखें तो यह अभी दुनिया में उपलब्ध किसी भी एयर डिफेंस सिस्टम के मुकाबले सस्ता है।