मायावती ने अखिलेश के साथ खत्म किया गठबंधन, कहा- अब सभी चुनाव अकेली लड़ेगी BSP

लोकसभा चुनाव में मिली करारी शिकस्त के बाद बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के बीच सियासी तकरार लगातार जारी है। वहीं इन सबके बीच सुप्रीमो मायवाती ने ट्वीट कर समाजवादी पार्टी के साथ अपना गठबंधन आधिकारिक रूप से खत्म कर लिया है।  

Written by Newsroom Staff June 24, 2019 12:39 pm

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में मिली करारी शिकस्त के बाद बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के बीच सियासी तकरार लगातार जारी है। वहीं इन सबके बीच बीएसपी सुप्रीमो मायवाती ने ट्वीट कर समाजवादी पार्टी के साथ अपना गठबंधन आधिकारिक रूप से खत्म कर लिया है।

Mayawati and Akhilesh Yadav

सोमवार को मायावती ने सपा के साथ गठबंधन को खत्म करने का ऐलान करते हुए लगातार तीन ट्वीट किए। मायावती ने ट्वीट के माध्यम से कहा, “वैसे भी जगजाहिर है कि सपा के साथ सभी पुराने गिले-शिकवों को भुलाने के साथ-साथ सत्र 2012-17 में सपा सरकार के बीएसपी व दलित विरोधी फैसलों, पदोन्नति में आरक्षण विरुद्ध कार्यों एवं बिगड़ी कानून व्यवस्था आदि को दरकिनार करके देश व जनहित में सपा के साथ गठबंधन धर्म को पूरी तरह से निभाया।

Mayawati, BSP

उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा, “परन्तु आम चुनाव के बाद सपा का व्यवहार बीएसपी को यह सोचने पर मजबूर करता है कि क्या ऐसा करके बीजेपी को आगे हरा पाना संभव होगा? जो संभव नहीं है। अत: पार्टी व आंदोलन के हित में अब बीएसपी आगे होने वाले सभी छोटे-बड़े चुनाव अकेले अपने बूते पर ही लड़ेगी।”

मायावती ने ट्वीट कर लिखा, “बीएसपी की अखिल भारतीय बैठक कल रविवार को लखनऊ में ढाई घंटे तक चली। इसके बाद राज्यवार बैठकों का दौर भी देर रात तक चलता रहा जिसमें भी मीडिया नहीं था। फिर भी बसपा प्रमुख के बारे में जो बातें मीडिया में आई हैं वे पूरी तरह से सही नहीं हैं जबकि इस बारे में प्रेसनोट भी जारी किया गया था।”

Mayawati Tweet

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी और मायावती की बहुजन समाज पार्टी ने गठबंधन किर मिलकर चुनाव लड़ा था। बसपा ने जहां 38 सीटों पर चुनाव लड़ा था तो वहीं समाजवादी पार्टी ने 37 सीटों पर अपने उम्मीदवारों को खड़ा किया था। लेकिन चुनाव परिणामों में मायावती से ज्यादा नुकसान अखिलेश यादव को उठाना पड़ा।