लोकसभा चुनाव: गेस्टहाउस कांड के 24 साल बाद आज पहली बार एक मंच पर होंगे मायावती-मुलायम

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और  बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती आज सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के साथ मैनपुरी में चुनाव प्रचार करेंगी। मैनपुरी की जनता के लिए तो यह ऐतिहासिक पल होगा जब 24 साल बाद मायावती सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के लिए वोट मांगेंगी।

Written by: April 19, 2019 8:50 am

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और  बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती आज सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के साथ मैनपुरी में चुनाव प्रचार करेंगी। मैनपुरी की जनता के लिए तो यह ऐतिहासिक पल होगा जब 24 साल बाद मायावती सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के लिए वोट मांगेंगी।

Mayawati and Mulayam Singh

समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (रालोद) महागठबंधन की उत्तर प्रदेश के मैनपुरी में संयुक्त रैली है।मैनपुरी की क्रिश्चियन फील्ड में होने वाली इस रैली में मायावती मुलायम सिंह के साथ मंच साझा करेंगी। इसके जरिये महागठबंधन प्रतिद्वंद्वियों को यह संदेश देने की कोशिश करेगा कि सभी दल भाजपा के खिलाफ एकजुट हैं।

Akhilesh Yadav And Mayawati

अगर मुलायम इस रैली में मंच साझा करते हैं तो 1995 के गेस्ट हाउस कांड के बाद यह पहला मौका होगा जब मुलायम-मायावती एक साथ नजर आएंगे। इस पर सभी की नजर टिकी हैं। माया ने गठबंधन का एलान करते हुए कहा था कि वह गेस्ट हाउस कांड को किनारे रखकर जनहित में गठबंधन कर रही हैं। यानी वह इस चर्चित घटना को भुला नहीं पाई हैं। ऐसे में माया का मुलायम के लिए वोट मांगना बड़ी बात होगी।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव से पहले गठबंधन किया है। इस समझौते के तहत 38-38 सीटों पर बीएसपी और सपा चुनाव लड़ रही हैं और दो सीटें शुरू में आरएलडी के लिए छोड़ी गई थी बाद में एक सीट और आरएलडी की दी गई है। वहीं इस  गठबंधन ने अमेठी और रायबरेली में अपने प्रत्याशी न उतारने का फैसला किया है।