यूपी में आपदा पीड़ितों की तत्काल मदद करे सरकार : मायावती

मायावती ने अलीगढ़ की वारदात की निंदा करते हुए कहा, “अलीगढ़ में दो साल की मासूम बच्ची के साथ नृशंस व्यवहार एवं हत्या अति-शर्मनाक व दु:खद है। उप्र सरकार तुरंत कानून का राज स्थापित करने के लिए सख्त कार्रवाई कर दोषियों को सलाखों के पीछे भेजे।”

Written by: June 7, 2019 7:37 pm

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी(बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने उप्र में आई प्राकृतिक आपदा आंधी, पानी और ओला वृष्टि से हुए जान-माल के नुकसान पर शुक्रवार को दु:ख जाताया, और आपदा पीड़ितों की तुरंत मदद करने की सरकार से मांग की।

mayawati

मायावती ने जारी एक बयान में कहा, “उप्र में कल (गुरुवार) रात तेज आंधी, बारिश और ओलावृष्टि के कारण जान-माल की व्यापक हानि अति-दु:खद है। सरकार तुरन्त ही पूरी संवेदनशीलता के साथ सक्रिय होकर सभी पीड़ित परिवारों को आर्थिक सहायता एवं राहत आदि देने के लिए आगे आए।”


इसके अलावा उन्होंने अलीगढ़ की वारदात की निंदा करते हुए कहा, “अलीगढ़ में दो साल की मासूम बच्ची के साथ नृशंस व्यवहार एवं हत्या अति-शर्मनाक व दु:खद है। उप्र सरकार तुरंत कानून का राज स्थापित करने के लिए सख्त कार्रवाई कर दोषियों को सलाखों के पीछे भेजे।”

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में आंधी-तूफान और आकाशीय बिजली गिरने से कम से कम 19 लोगों की मौत हो गई तथा 48 अन्य घायल हो गए। हालांकि राज्य सरकार ने इस मामले में तुरंत सक्रियता दिखाई है।

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आंधी-तूफान से प्रभावित एटा, कासगंज, मैनपुरी, बदायूं, मुरादाबाद, फरुखाबाद जनपदों के प्रभारी मंत्रियों को निर्देश दिया है कि वे सम्बन्धित जनपदों का दौरा कर राहत कार्य का जायजा लें।