मोदी सरकार-2 का पहला बड़ा फैसला शहीदों के बच्चों के नाम, बढ़ाई स्कॉलरशिप

पहली मीटिंग में पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, महिला एवं बाल विकास और कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के अलावा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और पीएमओ में राज्य मंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह के साथ कई मंत्री शामिल हुए।

Avatar Written by: May 31, 2019 6:00 pm

नई दिल्ली। शपथ ग्रहण के दूसरे दिन ही मोदी सरकार-2 की पहली कैबिनेट मीटिंग बुलाई गई। इस मीटिंग में पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, महिला एवं बाल विकास और कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के अलावा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और पीएमओ में राज्य मंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह के साथ कई मंत्री शामिल हुए।

अपनी पहली कैबिनेट मीटिंग में मोदी सरकार ने सेना से जुड़ा एक बड़ा फैसला लेते हुए शहीदों के बच्चों की स्कॉलरशिप बढ़ा दी है। बता दें कि अब शहीदों के बेटों को हर महीने अब 2500 रुपए की स्‍कॉलरशिप मिलेगी, पहले 2000 रुपए स्‍कॉलरशिप मिलती थी। इसमें 500 रुपए की बढ़ोतरी की गई है। वहीं लड़कियों के लिए स्‍कॉलरशिप 2250 रुपए से बढ़ाकर 3000 रुपए कर दी गई है।

इस फैसले में अब सेना और अर्धसैनिक बलों के अलावा राज्‍य पुलिस के उन जवानों के बच्‍चों को भी मिलेगा। इस कोटे का लाभ एक साल में 500 को मिलेगा। प्रधानमंत्री स्‍कॉलरशिप स्‍कीम का लाभ राज्‍य पुलिस के उन जवानों के बच्‍चों को मिलेगा, जो ड्यूटी के दौरान या नक्‍सली हमले के दौरान शहीद हुए हैं।

पीएम मोदी ने ट्वीट किया है कि हमारी सरकार का पहला फैसला भारत की रक्षा करने वालों को समर्पित है! पहले फैसले में राष्ट्रीय रक्षा कोष के तहत प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना में बदलाव करते हुए पीएम मोदी ने आतंकी, माओवादी हमलों में शहीद जवानों के बच्चों की छात्रवृत्ति बढ़ाने का फैसला लिया।

जानें किसे मिला कौन सा मंत्रालय