मोदी सरकार की बड़ी कामयाबी, तीन तलाक बिल लोकसभा के बाद राज्यसभा से भी पास

तीन तलाक बिल एक लंबे चर्चे और काफी ज्यादा दलिलों के बाद आखिरकार लोकसभा के बाद राज्यसभा से भी पास हो गया है। संसद के दोनों सदनों में बिल को मंजूरी मिल गई है। 

Written by: July 30, 2019 6:47 pm

नई दिल्ली। तीन तलाक बिल एक लंबे चर्चे और काफी ज्यादा दलिलों के बाद आखिरकार लोकसभा के बाद राज्यसभा से भी पास हो गया है। संसद के दोनों सदनों में बिल को मंजूरी मिल गई है।

pm modi

बिल के पक्ष में 99 वोट पड़े जबकि विपक्ष में 84 वोट पड़े। लोकसभा से यह बिल 26 जुलाई को ही पास हो चुका है और अब एक बार में तीन तलाक को अपराध माना जाएगा, साथ ही इसके लिए 3 साल की सजा और जुर्माने का प्रावधान इस बिल में शामिल है।

teen talaq

राज्यसभा से पास होने के बाद इस बिल को राष्ट्रपति की मंजूरी के लिए भेजा जाएगा। तीन बार लोकसभा में पेश होने के बाद आखिरकार राज्यसभा से भी इस बिल को पास कर दिया गया है। हालांकि, बिल के विरोध में बहुत सारी विपक्षी पार्टियां खड़ी थे, लेकिन केंद्र सरकार ने इस बिल को पास कराने के लिए तमाम दलिलों का सहारा लिया और आखिरकार इस बिल को राज्यसभा से भी पास कर दिया गया है।

teen talaq 1

वहीं इससे पहले राज्यसभा में तीन तलाक बिल को सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने का प्रस्ताव वोटिंग के बाद गिर गया। प्रस्ताव के पक्ष में 84 और विपक्ष में 100 वोट पड़े थ। बिल का विरोध करने वाली कई पार्टियां वोटिंग के दौरान राज्यसभा से वॉकआउट कर गई थीं। इस बिल में तीन तलाक को गैर कानूनी बनाते हुए 3 साल की सजा और जुर्माने का प्रावधान शामिल है।

teen talaq 2

तीन तलाक बिल 26 जुलाई को इसी सत्र में लोकसभा से पास हो चुका है। मोदी सरकार पहली बार सत्ता में आने के बाद से ही तीन तलाक बिल को पारित कराने की कोशिश में जुटी थी। पिछली लोकसभा में पारित होने के बाद यह बिल राज्यसभा में अटक गया था, जिसके बाद सरकार इसके लिए अध्यादेश लेकर आई थी।

प्रधानमंत्री Narendra Modi आज नागरिकों के लिए क्या किया? 30th July 2019

Question – प्रधानमंत्री Narendra Modiआज नागरिकों के लिए क्या किया? 30th July 2019Answer – #TripleTalaqBill is passed – मोदी सरकार की बड़ी कामयाबी, तीन तलाक बिल लोकसभा के बाद राज्यसभा से भी पासआज हिंदुस्तान और हिन्दू भाइयो की जीत हुई है – #TripleTalaqBill मुक्ति मिली है

Posted by Newsroom Post on 2019 m. liepos 30 d., antradienis

इस लोकसभा में फिर से कुछ बदलावों के साथ यह बिल लाया गया था और अब लोकसभा के बाद राज्यसभा में इस बिल को पास कराने में सरकार सफल रही है।