अयोध्या फैसले पर बोले मोहन भागवत- अतीत भूल कर मिलकर मंदिर निर्माण में जुटें

अयोध्या फैसला आने के बाद राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागववत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया। उन्होंने कहा कि, हम सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का स्वागत करते हैं। यह मामला दशकों से चल रहा था और यह सही निष्कर्ष पर पहुंच गया है।

Written by: November 9, 2019 1:14 pm

नई दिल्ली। देश के सबसे पुराने केस में से एक अयोध्या विवाद पर फैसला आ गया है। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुवाई में संवैधानिक पीठ ने फैसला सुनाते हुए निर्मोही अखाड़ा और शिया वक्फ बोर्ड का दावा खारिज कर दिया है।

Ram Mandir Supreme Court

अयोध्या में रामजन्मभूमि न्यास को विवादित जमीन दी गई है। साथ ही मुस्लिम पक्ष को अलग जगह जमीन देने का आदेश दिया गया है।

mohan bhagwat

अयोध्या फैसला आने के बाद राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागववत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया। उन्होंने कहा कि, हम सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का स्वागत करते हैं। यह मामला दशकों से चल रहा था और यह सही निष्कर्ष पर पहुंच गया है।


उन्होंने आगे कहा कि, इसे जीत या हानि के रूप में नहीं देखा जाना चाहिए। हम समाज में शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए सभी के प्रयासों का भी स्वागत करते हैं।