अयोध्या मामला : फैसला आने के बाद देश को संबोधित करेंगे मोहन भागवत

दशकों से चले आ रहे अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा फैसला सुनाने के पहले स्थिति पर निगरानी रखने के लिए राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी में मौजूद रहेंगे।

Written by: November 9, 2019 9:53 am

नई दिल्ली। दशकों से चले आ रहे अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा फैसला सुनाने के पहले स्थिति पर निगरानी रखने के लिए राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी में मौजूद रहेंगे। आरएसएस के सूत्रों के अनुसार, मोहन भागवत सुप्रीम कोर्ट के फैसले को जनता द्वारा स्वीकार करने को लेकर देश को संबोधित भी कर सकते हैं।

Mohan Bhagwat

संघ की तरफ से कहा गया है कि मोहन भागवत दोपहर 1 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मीडिया के माध्यम से राष्ट्र को संबोधित करेंगे।

साल 1949 से लंबित राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले पर अदालत के आसन्न फैसले पर विचार करने के लिए संघ के शीर्ष नेता बीते 10 दिनों से दिल्ली में ‘उदासीन आश्रम’ शिविर का आयोजन कर रहे हैं। देशभर में सांप्रदायिक सौहार्द बनाए रखने के लिए संघ के शीर्ष नेताओं ने कई बैठकों का आयोजन भी किया है।

Ayodhya land case

सूत्रों ने बताया कि आरएसएस के सरसंघचालक कृष्ण गोपाल भी मुस्लिम बुद्धिजीवियों के साथ परिस्थिति को लेकर बैठक कर रहे हैं। संघ के सदस्य मुस्लिम संगठनों के अधिकारियों के साथ फैसले के बाद सौहार्दपूर्ण माहौल बनाए रखने के लिए भी बैठकें कर रहे हैं।

Support Newsroompost
Support Newsroompost