भोपाल के दुष्कर्मी का नाक-कान चौराहे पर काटा जाए : मंत्री

राजधानी के कमला नगर क्षेत्र में मासूम बालिका के परिजनों से मुलाकात करने के बाद बुधवार को महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने संवाददाताओं से कहा, यह घटना हर किसी को डराने के साथ आक्रोशित कर देने वाली है।

Written by: June 12, 2019 4:45 pm

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक आठ वर्षीय मासूम की दुष्कर्म के बाद नृशंस हत्या किए जाने की घटना के बाद से हर कोई आक्रोशित है। राज्य की महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने तो आरोपी को चौराहे पर नाक-कान काटकर सख्त सजा दिए जाने की मांग की है, ताकि अन्य दूसरा कोई ऐसा कृत्य न कर सके।

राजधानी के कमला नगर क्षेत्र में मासूम बालिका के परिजनों से मुलाकात करने के बाद बुधवार को महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने संवाददाताओं से कहा, “यह घटना हर किसी को डराने के साथ आक्रोशित कर देने वाली है। जिस आरोपी ने इस घटना को अंजाम दिया है, उसे सख्त से सख्त सजा दी जानी चाहिए। आरोपी को चौराहे पर खड़ा करके ऐसी सजा दी जानी चाहिए, जिसे देखकर लोग डर जाएं, ताकि अन्य बेटियों के साथ इस तरह का कृत्य न हो।”

उन्होंने आगे कहा, “मेरी तो इच्छा है कि आरोपी को चौराहे पर खड़ा कर हाथ-पैर काटकर व नाक-कान काटकर उसके पाप की सजा दी जाए। वहीं सुरक्षा के लिए बड़ी बस्तियों के बाहर पुलिस चौकी स्थापित की जाए, इसके लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ से भी चर्चा करूंगी।”


गौरतलब है कि कमला नगर थाना क्षेत्र की मंडवा बस्ती में आठ वर्षीय बालिका शनिवार रात अपने घर से सामान लेने बाहर निकली तो लौट कर नहीं आई। मासूम का रविवार सुबह नाले में शव मिला था।

पुलिस की लापरवाही उजागर होने पर सात पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया। साथ ही आरोपी पर 20 हजार रुपये का इनाम घोषित किए जाने के साथ ही उसकी तलाश के लिए 20 दल गठित किए गए थे। आरोपी विष्णु प्रसाद को सोमवार सुबह खंडवा में गिरफ्तार किया गया था और वह जेल में है।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आरोपी का चालान जल्दी न्यायालय में पेश कर 30 दिनों के भीतर सजा दिलाने की बात कही है। वहीं भाजपा ने आरोपियों को न्यायालय द्वारा दी गई फांसी की सजा पर जल्दी अमल हो, इसके लिए त्वरित अदालत शुरू किए जाने के लिए पोस्टकार्ड अभियान शुरू किया है।