24 साल बाद एक साथ मंच पर दिखे मायावती-मुलायम सिंह

24 साल बाद आज सपा संरक्षक मुलायम सिंह और बसपा सुप्रीमो मायावती ने मंच साझा किया। मैनपुरी में आज मायावती, मुलायम सिंह यादव के लिए प्रचार करने पहुंची। इस रैली में अखिलेश यादव भी शामिल हुए।

Written by: April 19, 2019 1:19 pm

मैनपुरी। उत्तर प्रदेश में कभी एक दूसरे के कट्टर विरोधी रहे समाजवादी पार्टी (सपा) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने शुक्रवार को गठबंधन की संयुक्त रैली में एक साथ मंच साझा किया। इस रैली में अखिलेश यादव भी शामिल हुए। मंच से मायावती ने मुलायम को पिछड़े वर्ग का सबसे बड़ा नेता बताया।

रैली को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा कि मायावती जी का अहसान हम कभी नहीं भूलेंगे। आज से बड़ा एतिहासिक दिन कोई नहीं हो सकता। इस दौरान अखिलेश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा। अखिलेश यादव ने कहा, ‘’यहां की जनता पर मुझे पूरा भरोसा है कि नेताजी की सेवाओं, उनके विकास और जिस तरीके राजनीति में उन्होंने काम किया है, जनता उन्हें ऐतिहासिक वोट से जिताएगी।” उन्होंने कहा, ”ये ऐतिहासिक क्षण है कि मायावती जी ने नेताजी ( मुलायम सिंह यादव) के लिए समर्थन मांगा है। हम इसके लिए सदैव आभारी रहेंगे।”

Akhilesh Yadav

मायावती ने कहा, “मुलायम सिंह यादव जी देश के काफी बड़े नेता हैं। जो कहते हैं, वह करते हैं। यह मोदी की तरह पिछड़े वर्ग के नकली नेता नहीं हैं। मोदी खुद को पिछड़ा बताकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। मुलायम सिंह ने पिछड़ों का विकास किया है।”

उन्होंने कहा कि केंद्र में आजादी के बाद कांग्रेस या भाजपा की ही सरकार रही है, लेकिन कांग्रेस पार्टी के केंद्र की गलत नीतियों की वजह से इन्हें केंद्र और राज्यों की सत्ता से बाहर होना पड़ा है। कांग्रेस पूरे देश में घूम-घूम कर लोगों का वोट लेने के लिए झूठ बोल रही है। अगर हम सत्ता में आते हैं तो आपको हम नौकरी देंगे।Mayawati

मायावती ने कहा कि हमें विरोधी दलों के बहकावे में नहीं आना है। हमारी पार्टी सरकार में आती है तो हम गरीबों को नौकरी दिलाएंगे। भाजपा गठबंधन को लेकर जनता को गलत तरीके से बहका रही है, आपको उनके बहकावे में नहीं आना है।

उन्होंने कहा कि दो चरणों के ही चुनाव में भाजपा की हालत खराब हो गई है। मोदी क्या-क्या नहीं बोलते। मोदी जी सुनिए, आपने हमारे गठबंधन को सराब कहा है तो गठबंधन को नशा चढ़ गया है। हम अब भाजपा को बाहर कर देंगे।

मुलायम ने कहा कि मायावती हमारे लिए वोट मांगने आईं हैं। हम उनका स्वागत करते हैं। उन्होंने कहा कि आप इस चुनावी समय पर यहां आईं, आपके इस एहसान को कभी नहीं भूलूंगा। उन्होंने वहां मौजूद लोगों से कहा कि मायावती का बहुत सम्मान करना होगा। मायावती ने हमेशा हमारा साथ दिया है।

mulayam singh yadav

मैनपुरी के मंच से मुलायम ने बड़ा एलान करते हुए कहा, “यह मेरा आखिरी चुनाव है। हर बार मैनपुरी के लोग हमें जिताते आए हैं। आखिरी चुनाव में भारी बहुमत से एक बार और जिता देना। हर जीत से यह जीत बड़ी होनी चाहिए।”