कांग्रेस का तुगलक रोड चुनाव घोटाला तो ट्रेलर है : नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्य प्रदेश में आयकर विभाग की दबिश में करोड़ों रुपये की रकम मिलने को लेकर राज्य की कमलनाथ सरकार और कांग्रेस पर बुधवार को हमला बोला।

Written by Newsroom Staff April 26, 2019 9:27 pm

जबलपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्य प्रदेश में आयकर विभाग की दबिश में करोड़ों रुपये की रकम मिलने को लेकर राज्य की कमलनाथ सरकार और कांग्रेस पर बुधवार को हमला बोला। उन्होंने कहा कि “अभी तो सत्ता में आए छह माह ही हुए हैं, तब उन्होंने तुगलक रोड चुनाव घोटाला कर दिया है। यह तो ट्रेलर है, अभी तो पांच साल बाकी हैं।”Narendra Modi Jabalpur यहां गैरिसन मैदान में भाजपा उम्मीदवार राकेश सिंह के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, “राज्य में कांग्रेस की सरकार ने किसानों की कर्जमाफी का वादा किया था, युवाओं को बेरोजगारी भत्ता की बात की थी। Narendra Modi Jabalpurमगर कुछ नहीं किए, ढाई माह में तीन काम जरूर किए हैं। कानून-व्यवस्था पूरी तरह चौपट कर दी, तबादला को उद्योग बना दिया। कर्मचारियों को परेशान किया जा रहा है, बोली लग रही है। तीसरा नोटों के बंडल मिलना।”


मोदी ने राज्य में बढ़े भ्रष्टाचार का जिक्र करते हुए कहा, “राज्य में कांग्रेस की 15 साल बाद सरकार बनी है और उसने ढाई माह में ही तुगलक रोड चुनाव घोटाला कर दिया है। अभी तो पांच साल बाकी हैं। यह तो ट्रेलर है। पांच साल में क्या होगा, यह सोचकर मन कांप जाता है। यह तो मध्य प्रदेश में हुआ है, उनकी नजर पूरे देश पर है। छह माह में इतनी लूट कर सकते हैं तो पांच साल में क्या करेंगे। अगर हिंदुस्तान को लूटने का मौका मिल गया तो क्या कुछ बचेगा क्या।”


मोदी ने आगे कहा, “मध्य प्रदेश के गरीब आदिवासी बच्चों और प्रसूता माताओं के पोषण आहार के लिए चौकीदार की सरकार राज्य सरकार को दिल्ली से पैसा भेजती है, ताकि प्रसूता को अच्छा पोषण मिले, जिससे उसके गर्भ में पल रहा बच्चा और प्रसूता दोनों का स्वास्थ्य अच्छा रहे। मगर चौकीदार के रहते हुए चोरी करने की हिम्मत कर गए और उस पैसे से तुगलक रोड चुनावी घोटाला कर दिया है।”Narendra Modi Jabalpur

उन्होंने आगे कहा, “तुगलक रोड दिल्ली में है, वहां कांग्रेस के बड़े नेता का बंगला है, गरीब के निवाले का पैसा वहां पहुंचाते थे, जो बोरों में पकड़ा गया है। घोटाला कर गरीब बच्चों, प्रसूता का पैसा नामदार के प्रचार में लगा दिया गया।”