Farmers Protest: कृषि कानूनों को लेकर किसानों के नाम नरेंद्र सिंह तोमर का पत्र, जानिए क्या लिखा…

Farmers Protest: केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने यह चिट्ठी किसानों के नाम संबोधन में लिखी है। इस पत्र में नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान भाईयों को संबोधित करते हुए लिखा है। सभी किसान भाइयों और बहनों से मेरा आग्रह ! “सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास” के मंत्र पर चलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हमारी सरकार ने बिना भेदभाव सभी का हित करने का प्रयास किया है। विगत 6 वर्षों का इतिहास इसका साक्षी है।

Avatar Written by: December 17, 2020 6:54 pm
Narendra Singh Tomar

नई दिल्ली। देशभर में कृषि कानून को खारिज करने की मांग किसानों ने तेज कर दी है। किसान दिल्ली की सीमाओं पर बैठे हुए हैं। सरकार की तरफ से किसान नेताओं को इन कृषि कानूनों को बेहतर तरीके से समझाने और उनकी समस्या का समाधान करने की हरसंभव कोशिश कर रहे हैं। इस सब के बीच यह पूरा मामला सुप्रीम कोर्ट के सामने भी पहुंच गया। कोर्ट ने इस मामले में एक कमेटी बनाने की भी बात कही है। किसान नेता लगातार इस बात को भी कह रहे हैं कि सरकार की तरफ से अगर कोई भी प्रस्ताव बातचीत के लिए आता है तो वह इसपर विचार जरूर करेंगे। लेकिन उनकी शर्त पहली यही है कि इस कानून को समाप्त कर दिया जाए। इस आंदोलन को चलते हुए आज तीन हफ्ते से ज्यादा का समय बीत चुका है। ऐसे में आज इस मामले पर एक बार फिर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल के बीच बैठक हुई। इस बैठक के ठीक बाद किसानों को कृषि कानूनों के बारे में समझाने के लिए केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने एक चिट्ठी लिखी है।

Union Minister Narendra Singh Tomar

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने यह चिट्ठी किसानों के नाम संबोधन में लिखी है। इस पत्र में नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान भाईयों को संबोधित करते हुए लिखा है। सभी किसान भाइयों और बहनों से मेरा आग्रह ! “सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास” के मंत्र पर चलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हमारी सरकार ने बिना भेदभाव सभी का हित करने का प्रयास किया है। विगत 6 वर्षों का इतिहास इसका साक्षी है।


कृषि मंत्री ने आगे लिखा है कि आप विश्वास रखिये, किसानों के हितों में किये गए ये सुधार भारतीय कृषि में नए अध्याय की नींव बनेंगे, देश के किसानों को और स्वतंत्र करेंगे, सशक्त करेंगे।

 

इस पत्र में नरेंद्र सिंह तोमर ने कृषि कानूनों को लेकर फैलाए जा रहे भ्रम से बचने की किसानों से आग्रह किया है। इसके साथ ही कृषि मंत्री ने सरकार से की गई किसानों की मांगों पर कैसे विचार किया गया इसके बारे में भी बताया है। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने इसके साथ ही कृषि कानूनों में किए गए बदलाव पर क्रमवार अपनी सारी बातें एक-एक कर प्वाइंट वाइज किसानों को समजाने की कोशिश की है।


इसके बाद इस मामले पर पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर जी ने किसान भाई-बहनों को पत्र लिखकर अपनी भावनाएं प्रकट की हैं, एक विनम्र संवाद करने का प्रयास किया है। सभी अन्नदाताओं से मेरा आग्रह है कि वे इसे जरूर पढ़ें। देशवासियों से भी आग्रह है कि वे इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं।

Support Newsroompost
Support Newsroompost