कभी नहीं कहा कि लोगों के खातों में आएंगे 15 लाख रुपये : राजनाथ सिंह

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने 2014 में लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान कभी भी लोगों के बैंक खातों में 15 लाख रुपये ट्रांसफर करने का वादा नहीं किया था। राजनाथ सिंह ने समाचार एजेंसी ‘एनएनआई’ को दिए इंटरव्यू में कहा, ‘बिल्कुल नहीं कहा था कि 15 लाख रुपए आएंगे, ये कभी नहीं कहा था।’

Written by: April 9, 2019 2:09 pm

नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने 2014 में लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान कभी भी लोगों के बैंक खातों में 15 लाख रुपये ट्रांसफर करने का वादा नहीं किया था। राजनाथ सिंह ने समाचार एजेंसी ‘एनएनआई’ को दिए इंटरव्यू में कहा, ‘बिल्कुल नहीं कहा था कि 15 लाख रुपए आएंगे, ये कभी नहीं कहा था।’

Rajnath Singh

राजनाथ सिंह ने कहा कि हमने काले धन के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही थी और की भी है। उन्होंने कहा कि हमारी ही सरकार ने काले धन को लेकर एसआईटी गठित की। गौरतलब है कि राजनाथ सिंह का यह बयान ऐसे वक्त में आए है जब विपक्ष भाजपा को साल 2014 में किए गए वादों को लेकर निशाना साध रहा है।

पाकिस्‍तान के बालाकोट में भारतीय वायुसेना की एयर स्‍ट्राइक पर राजनाथ सिंह ने कहा कि बालाकोट में भारत की तरफ से किए गए एयर स्ट्राइक के दौरान इस बात का पूरा ख्याल रखा गया था कि नागरिकों को कोई नुकसान न पहुंचे। राजनाथ सिंह ने कहा कि बालाकोट एयर स्ट्राइक को लेकर सरकार से सवाल पूछो लेकिन सुरक्षाबलों से सबूत मत मांगो।

Rajnath Singh

मध्‍य प्रदेश में मुख्‍यमंत्री कमलनाथ के करीबी अधिकारियों पर मारे जा रहे छापों पर वरिष्‍ठ भाजपा नेता ने कहा कि आयकर विभाग (आईटी) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के छापों के पीछे कोई राजनीतिक प्रभाव नहीं है। छापेमारी करने वाली एजेंसियां स्वायत्त हैं। उन पर चुनाव आचार संहिता लागू नहीं होती है। जांच एजेंसियां ये छापे गोपनीय सूचना के आधार पर मार रही हैं। इन छापेमारियों को लेकर केंद्र सरकार पर सवाल उठाना ठीक नहीं है।

‘जम्‍मू-कश्‍मीर के लिए अलग वजीर-ए-आजम’ वाले उमर अब्दुल्ला के बयान पर राजनाथ ने कहा कि कश्‍मीर के अलग प्रधानमंत्री का सवाल ही पैदा नहीं होता है।