एयरफोर्स स्टेशन पर धमाके के अगले ही दिन मिलिट्री स्टेशन के पास दिखे दो ड्रोन, सेना ने की ताबड़तोड़ फायरिंग

Military Station: इसको लेकर सामने आई जानकारी के मुताबिक, जम्मू के कालूचक मिलिट्री स्टेशन पर सुबह 3 बजे दो ड्रोन देखे गए। फिलहाल इसके नजर आते ही सेना अलर्ट होते हुए ड्रोन पर 20 से 25 राउंड की फायरिंग कर दी।

Written by: June 28, 2021 12:59 pm
drone

नई दिल्ली। शनिवार की देर रात करीब 1 बजे जम्मू-कश्मीर के एयरफोर्स स्टेशन पर करीब 1 बजे के आसपास पांच मिनट के अंदर दो धमाकों से हड़कंप मच गया था। इन धमाकों को लेकर भारतीय वायु सेना की तरफ से कहा गया कि, जम्मू वायु सेना स्टेशन के टेक्निकल इलाके में रविवार सुबह दो कम तीव्रता वाले विस्फोटों की सूचना मिली। एक विस्फोट से इमारत की छत को मामूली नुकसान पहुंचा जबकि दूसरा खुले क्षेत्र में फटा। किसी भी उपकरण को कोई नुकसान नहीं हुआ। जांच चल रही है। वहीं हमले को लेकर आशंका जताई गई है कि यह धमाका ड्रोन के जरिए किया गया। इस घटना के बाद अब एक बार फिर से आतंकियों ने ड्रोन के जरिए मिलिट्री स्टेशन पर भी हमला करने की कोशिश की। इसको लेकर सामने आई जानकारी के मुताबिक, जम्मू के कालूचक मिलिट्री स्टेशन पर सुबह 3 बजे दो ड्रोन देखे गए। फिलहाल इसके नजर आते ही सेना अलर्ट होते हुए ड्रोन पर 20 से 25 राउंड की फायरिंग कर दी।

गौरतलब है कि सेना की जवाबी कार्रवाई के बाद ड्रोन वहां गायब हो गए। फिलहाल सेना सर्च ऑपरेशन चलाकर ड्रोन की तलाश कर रही है। वहीं इससे पहले शनिवार देर रात हुए हमले को लेकर सूत्रों का कहना था कि, जम्मू एयर बेस के पास ड्रोन विस्फोट में भारतीय वायु सेना (IAF) के दो जवानों को मामूली चोटें आई हैं। ऐसे में बताया जा रहा है कि भारतीय वायुसेना का एक उच्च स्तरीय जांच दल जल्द जम्मू पहुंचेगा।

Jammu Attack

बता दें कि शनिवार की रात हुए धमाके के पीछे की मंशा एयरबेस में खड़े एयरक्राफ्ट को नुकसान पहुंचाना था। हालांकि, किसी भी इक्विपमेंट या एयरक्राफ्ट को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। दरअसल ड्रोन के इस्तेमाल को लेकर इसलिए भी आशंका बढ़ जाती है क्योंकि असलहा-बारूद गिराने वाले ड्रोन को रडार में पकड़ने में दिक्कत आती है। इससे पहले भी कई बार ऐसे ड्रोन रडार की पकड़ में आने से बच चुके हैं।

Support Newsroompost
Support Newsroompost