Connect with us

देश

Shah Faesal: कभी कश्मीर के लिए छोड़ी थी IAS की नौकरी, अब शाह फैसल को केंद्र सरकार ने सौंपी ये बड़ी जिम्मेदारी

दरअसल, शाह फैसल को लकर खबर आई है कि कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग ने उन्हें उपसचिव के पद पर जिम्मेदारी सौंपी है। ध्यान रहे कि दो दिन पूर्व ही उन्हें पर्यटन विभाग में उपसचिव के पद की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। जिसे शाह ने सहर्ष स्वीकार कर लिया है। बता दें कि प्रशासनिक सेवा में लौटने के उपरांत इस बात की जानकारी सार्वजनिक नहीं हो पाई थी कि उन्हें कौन सी जिम्मेदारी दी गई है, लेकिन कार्मिक विभाग ने इस पर से संशय के बादल हटा दिए हैं।

Published

UPSC Topper Ex-IAS Shah Faesal

नई दिल्ली। साल 2019 में आईएएस शाह फैसल ने प्रशासनिक महकमे से अलहदा होने के बाद राजनीति की चोगा ओढ़ लिया था, लेकिन ज्यादा दिनों तक राजनीतिक की पिच पर टिक नहीं और कुछ साल बाद ही फिर से प्रशासनिक सेवा में यू टर्न ले लिया है। बता दें कि उन्होंने राजनीति में अपना दमखम दिखाने के लिए खुद की पॉलिटिकल पार्टी भी फॉर्म की थी, जिसका नाम था जम्मू कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट। इस पार्टी का गठन करने के दौरान उन्होंने बड़ी-बड़ी बातें कहीं थी, लेकिन राजनीति में एंट्री में वे उन बातों पर अमल नहीं कर पाए और जल्द प्रशासनिक सेवा में लौट आए। अब इसी बीच उन्हें लेकर एक अहम जानकारी सामने आई है।

Former IAS officer Shah Faesal

दरअसल, शाह फैसल को लकर खबर आई है कि कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग ने उन्हें उपसचिव के पद पर जिम्मेदारी सौंपी है। ध्यान रहे कि दो दिन पूर्व ही उन्हें पर्यटन विभाग में उपसचिव के पद की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। जिसे शाह ने सहर्ष स्वीकार कर लिया है। बता दें कि प्रशासनिक सेवा में लौटने के उपरांत इस बात की जानकारी सार्वजनिक नहीं हो पाई थी कि उन्हें कौन सी जिम्मेदारी दी गई है, लेकिन कार्मिक विभाग ने इस पर से संशय के बादल हटा दिए हैं।

UPSC Topper Ex-IAS Shah Faesal...

आपको बता दें कि शाह फैसल ने साल 2010 में आईएएस परीक्षा में टॉप किया था। दरअसल जम्मू कश्मीर कैडर के 2010 के आईएएस शाह फैसल ने जनवरी 2019 में अपनी सरकारी सेवाओं से इस्तीफा दे दिया था। ध्यान रहे कि जब उन्होंने राजनीति की में एंट्री करने का ऐलान किया था , तो कई लोगों ने उनके इस फैसले का स्वागत किया था, लेकिन अब उन्होंने भला क्यों प्रशासनिक सेवा में यू टर्न करने का फैसला किया है, इसे लेकर अभी तक कोई स्पष्ट जानकारी सामने नहीं आई पाई है। अब ऐसे में बतौर प्रशासनिक सेवक उनकी भूमिका कैसी रहती है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी। तब तक के लिए आप देश दुनिया की तमाम बड़ी खबरों से रूबरू होने के लिए आप पढ़ते रहिए। न्यूज रूम पोस्ट.क़ॉम

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement