मोहन भागवत के बयान पर ओवैसी का जवाब, कहा- असली समस्या बेरोजगारी है, न कि जनसंख्या

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सर संघचालक मोहन भागवत ने जनसंख्या वृद्धि के मुद्दे पर कहा है कि अब देश में दो बच्चों के कानून की जरूरत है।

Written by: January 19, 2020 8:48 am

नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने जनसंख्या वृद्धि के मुद्दे पर कहा था कि अब देश में दो बच्चों के कानून की जरूरत है। उनके इस बयान पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मोहन भागवत पर निशाना साधा है।

RSS Mohan bhagwat

ओवैसी ने कहा है कि, देश में वास्तविक समस्या बेरोजगारी है, न कि जनसंख्या है। ओवैसी ने कहा है कि आरएसएस के मोहन भागवत ने टू चाइल्ड पॉलिसी की बात कही। नौकरी कितनों को दी है वो बताइए। साल 2018 में औसतन 36 बच्चों ने हर रोज आत्महत्या की। बताओ उस पर क्या कहेंगे आप? भारत में 60 फीसदी आबादी 40 साल से कम उम्र के बच्चों की है, उनकी बात नहीं करेंगे।

Owaisi

दरअसल, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सर संघचालक मोहन भागवत ने जनसंख्या वृद्धि के मुद्दे पर कहा है कि अब देश में दो बच्चों के कानून की जरूरत है। उनका कहना है कि इसके लिए जनसंख्या वृद्धि पर सोचना होगा। उन्होंने हालांकि यह भी साफ किया कि इस संबंध में अंतिम फैसला सरकार को लेना है।

Owaisi statement on bhagwat

आपको बता दें कि पीएम मोदी ने भी 15 अगस्त को लाल किले के भाषण में जनसंख्या का मुद्दा उठाया था और लोगों से परिवार नियोजन अपनाने की बात कही थी। इस मुद्दे पर कई सरकारी, गैर सरकारी और सामाजिक संस्थाएं लोगों को जागरूक करने के लिए अभियान भी चला रही हैं।