देश

अखिलेश से चंद्रशेखर आखिर नाराज क्यों हुए हैं। वजह ये है कि चंद्रशेखर पहले सपा के साथ गठबंधन करना चाहते थे। कई दौर में अखिलेश से उनकी बातचीत भी हुई थी। सपा के सूत्रों के अनुसार चंद्रशेखर अपनी पार्टी के लिए कम से कम 12 सीटें लेना चाहते थे।

चिदंबरम के जिस ट्वीट से अरविंद केजरीवाल नाराज हो गए, उसमें लिखा गया, मेरा आकलन है कि आम आदमी पार्टी (और तृणमूल कांग्रेस) गोवा में गैर-भाजपा वोट को केवल खंडित करेगा, श्री अरविंद केजरीवाल द्वारा पुष्टि की गई है। गोवा में मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच है।

Uttarakhand: भाजपा सूत्रों ने बताया कि रावत विधानसभा चुनाव में अपनी पत्नी सहित अपने परिवार के तीन सदस्यों के लिए टिकट मांग रहे थे। सूत्रों ने कहा, "उन्हें धामी मंत्रिमंडल से हटा दिया गया है और छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है।"

सिख्स फॉर जस्टिस का सरगना गुरपतवंत सिंह पन्नू एलान कर चुका है कि पीएम नरेंद्र मोदी को गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने से रोकने और खालिस्तान का झंडा 26 जनवरी को फहराने वाले को संगठन 1 लाख डॉलर देगा।

बड़ों के वैक्सीनेशन का काम भी तेजी से चल रहा है। अब तक 137 करोड़ से ज्यादा डोज दिए जा चुके हैं। यूपी की कुल 25 करोड़ की आबादी में से 23 करोड़ को वैक्सीन लग चुकी है। इनमें से 14 करोड़ को पहली और बाकी को दूसरी डोज लगी है। चुनाव के कारण यूपी में वैक्सीनेशन का काम भी तेजी से किया जा रहा है।

मदन ने ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी का नाम लेते हुए तृणमूल कांग्रेस TMC में कामकाज के तरीकों पर सवाल खड़े कर दिए। मदन ने बयान दिया कि वो जानना चाहते हैं कि पार्टी की अनुशासन समिति कहां से काम कर रही है, क्योंकि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के हरीश चटर्जी मार्ग के घर से चल रहा पार्टी दफ्तर पहुंच से दूर है।

Pandit Birju Maharaj: कथक डांस के सम्राट पंडित बिरजू महाराज का निधन हो गया है। बिरजू महाराज 83 साल के थे। बताया जा रहा है हार्ट अटैक के बाद रविवार को देर रात उन्होंने दिल्ली में आखिरी सांस ली।

टिकैत ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा ही सर्वोपरि है और अगर हम उससे अलग जाते हैं, तो वो हमें बाहर भी कर सकते हैं। नरेश टिकैत से जब मीडिया ने पूछा कि गठबंधन के उम्मीदवार तो उनसे आशीर्वाद लेने आए थे, इस पर उन्होंने कहा कि हमारे पास कोई नहीं आ रहा है।

मोदी पर आरोप लगाते हैं कि उनके कुछ उद्योगपतियों से साठगांठ है, लेकिन अब विरोधियों ने पीएम मोदी का विरोध करने के लिए एक अमेरिकी कंपनी को ही अपना जरिया बनाया है। इस कंपनी का नाम है टेस्ला। टेस्ला के मालिक दुनिया के अमीर शख्सियतों में शुमार एलन मस्क हैं।