करतारपुर कॉरिडोर: पाकिस्तान में ही नहीं है इमरान की इज्जत, पाक सेना ने फिर बताई उसकी औकात

पाकिस्तानी सेना ने अपने प्रधानमंत्री इमरान खान का दूसरा वादा भी रद्द कर दिया है। पाकिस्तान सेना ने साफ कर दिया कि कल यानी 9 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर आने वाले भारतीय श्रद्धालुओं से 20 डॉलर वसूला जाएगा।

Written by: November 8, 2019 3:08 pm

नई दिल्ली। करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन कल होगा और दर्शन के लिए भारत से श्रद्धालुओं का पहला जत्था पाकिस्तान जा चुका है। इससे पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि, करतारपुर आने वाले भारतीय श्रद्धालुओं को पासपोर्ट लाने की जरुरत नहीं है। लेकिन इसके बाद पाक सेना ने इमरान के इस वादे को तोड़ दिया था और कहा था कि, भारतीय श्रद्धालुओं को पासपोर्ट साथ लाना होगा।

Kartarpur Pakistan Bagha Border

पाकिस्तानी सेना ने अपने प्रधानमंत्री इमरान खान का दूसरा वादा भी रद्द कर दिया है। पाकिस्तान सेना ने साफ कर दिया कि कल यानी 9 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर आने वाले भारतीय श्रद्धालुओं से 20 डॉलर वसूला जाएगा। इससे पहले इमरान खान ने ऐलान किया था कि करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन के मौके पर भारतीय श्रद्धालुओं से 20 डॉलर नहीं लिया जाएगा।

imran khan on kartarpur

करतारपुर साहिब के लिए यात्रा शुरु होने में चंद घंटे ही बचे हैं, मगर पाकिस्तान की पैंतरेबाजी है कि खत्म ही नहीं हो रहीय कैसे वो समझिए। सबसे पहले पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट कर कहा कि करतारपुर साहिब दर्शन के लिए आने वाले भारतीय श्रद्धालुओं को पासपोर्ट की जरूरत नहीं होगी, लेकिन पाकिस्तानी सेना की तरफ से अपने ही पीएम की बात को खारिज कर दिया गया।

इसके साथ ही पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि उद्घाटन और गुरु नानक देव की 550वीं जयंती पर आने वाले श्रद्धालुओं से एंट्री फीस नहीं वसूला जाएगा, लेकिन पाकिस्तानी सेना ने फिर अपने ही पीएम की बात को खारिज कर दिया। सेना ने कहा कि उद्घाटन के मौके पर आने वाले श्रद्धालुओं से भी एंट्री फीस वसूली जाएगी।

KARTARPUR CORRIDOR

10 दिन पहले कराना होगा रजिस्ट्रेशन

इसके अलावा पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने तीसरा ऐलान किया था कि करतारपुर साहिब दर्शन के लिए रजिस्ट्रेशन की जानकारी दस दिन पहले पाकिस्तान को देनी जरूरी नहीं होगी, लेकिन उन्हीं की सरकार के प्रवक्ता ने इमरान की बातों से विपरीत बयान दिया। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता शाह फैसल ने कहा कि हमें 10 दिन पहले जानकारी देनी होगी।

kartarpur cooridor

पाकिस्तान की पैंतरेबाजी से भारत सतर्क

imran khan kartarpur

पाकिस्तान की नीयत से भारत वाकिफ है, इसलिए उसने यहां से जाने वाले श्रद्धालुओं को पहले ही कह दिया था कि भारत सरकार भारतीय श्रद्धालुओं की लिस्ट पाकिस्तान को दस दिन पहले भेजा करेगी। भारतीय श्रद्धालुओं को वैध पासपोर्ट अपने साथ रखना होगा और करतारपुर साहिब के दर्शन के लिए पाकिस्तान सरकार को 20 डॉलर यानी करीब 1400 रुपये का सेवा शुल्क चुकाना होगा।