सीएए विरोधियों को भड़काकर आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने की थी तैयारी, ISIS से जुड़े दो संदिग्ध गिरफ्तार

दिल्ली में एक बड़ी साजिश को अंजाम देने की तैयारी थी। इसी तैयारी के तहत सीएए के विरोधियों को भड़का कर उन्हें आतंकवाद की राह पर ले जाने का कुचक्र रचा गया था।

Written by: March 8, 2020 6:46 pm

नई दिल्ली। दिल्ली में एक बड़ी साजिश को अंजाम देने की तैयारी थी। इसी तैयारी के तहत सीएए के विरोधियों को भड़का कर उन्हें आतंकवाद की राह पर ले जाने का कुचक्र रचा गया था।

Jahanjeb Sami and Hina Bashir Beg

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने ISKP यानि इस्लामिक स्टेट खोरासन प्रोविंस आतंकी संगठन से संबंध रखने के आरोप में दो संदिग्ध आतंकियों को हिरासत में लिया है।ये आतंकी संगठन आईएसआईएस से जुड़ा हुआ है।

इनके पास से जिहादी मेटेरियल भी बरामद हुआ है। यह लोग नौजवानों को भड़का रहे थे और उन्हें आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने की खातिर तैयार कर रहे थे। खुफिया जानकारी सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इन दोनों को गिरफ्तार किया। दोनों संदिग्ध जम्मू-कश्मीर के रहने वाले हैं।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक यह दोनों संदिग्ध अफगानिस्तान में बैठे अपने आकाओं से लगातार संपर्क में थे और वहां से मिल रहे दिशा-निर्देश पर लगातार काम कर रहे थे।

Islamic State militant

इन संदिग्धों के नाम जहान ज़ैब सामी और हिना बशीर बेग हैं। दोनों पति-पत्नी हैं। इन गिरफ़्तारियों से बड़ी साजिश का पर्दाफाश हुआ है। यह भी साफ हुआ है कि कैसे दूसरे देश में बैठे आतंकी संगठन भारत के अंदर सीएए को लेकर नौजवानों को बरगला रहे हैं और उन्हें आतंकी वारदातों को अंजाम देने के लिए तैयार कर रहे हैं।

दिल्ली पुलिस ने ओखला से पकड़े ISIS के 2 संदिग्ध

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने ओखला से आईएस को दो संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया है। दोनों पति और पत्नी हैं बताया जा रहा कि दोनों संदिग्ध आईएसकेपी नाम के संगठन से जुड़े हुए हैं। दोनों पर आरोप है कि वह दिल्ली में आत्मघाती हमला करने की साजिश में थे। पुलिस ने बताया है कि पति का नाम जहानबेग सामी है और पत्नी का नाम हिन्दा बशीर है। दोनों के पास से संवेदनशील सामग्रियां भी बरामद की गई है। पुलिस का कहना है कि दोनों संदिग्ध पति-पत्नी दिल्ली में आत्मघाती हमले की फिराक में थे।

terrorist arrest

बता दें कि दोनों पति पत्नी इंडियन मुस्लिम यूनाइट नामक एक सोशल अकाउंट चला रहे हैं। जो लोगों को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ ज्यादा से ज्यादा प्रर्दशनकारियों को जोड़ने की कोशिश में लगे थे। इसके अलावा पुलिस ने इन दोनों लोगों के पास से जिहादी साहित्य भी बरामद किया है।

दिल्ली पुलिस ने बताया कि दोनों पति-पत्नी आईएसआईएस से जुड़े हैं। दोनों पिछले साल अगस्त महीने से दिल्ली में रह रहे थे। इनके पास से आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं। जानकारी के मुताबिक, पति दिल्ली में एक निजी कंपनी में काम करता है।