गुर्जर आंदोलन के आगे झुकी राजस्थान सरकार, विधानसभा में पास हुआ आरक्षण बिल

गुर्जर आंदोलन जिस तरीके से उग्र हो रहा था उसको लेकर राजस्थान में काफी बैठके हो रही थीं। मंगलवार को गहलोत सरकार इस संबंध में दिनभर बैठकें करती रही और कैबिनेट में यह तय किया कि बुधवार को विधानसभा में 10 फीसदी सवर्ण आरक्षण बिल के साथ 4 फीसदी गुर्जर आरक्षण देने का संकल्प पत्र भी पारित किया जाएगा।

Avatar Written by: February 13, 2019 7:11 pm

नई दिल्ली। राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बने हुए अभी ज्यादा दिन नही हुए कि आरक्षण के लिए हो रहे गुर्जर आंदोलन ने गहलोत सरकार की नींद उड़ा डाली। लोकसभा चुनाव से पहले राजस्थान सरकार और कांग्रेस के लिए यह आंदोलन एक चुनौती भरा है। बता दें कि गुर्जरों के आंदोलन को देखते हुए राजस्थान की गहलोत सरकार ने 13 फरवरी बुधवार को विधानसभा में गुर्जरों को पांच फीसदी आरक्षण देने वाले विधेयक को पास करा लिया।

इतना ही नहीं इस विधेयक में गुर्जर सहित पांच जातियों को 5 फीसदी आरक्षण देने का प्रावधान है। इस विधेयक के पास होने के साथ ही आरक्षण को लेकर नियमों में संशोधन किए जाएंगे।

पिछड़ा वर्ग संशोधन विधेयक को राजस्थान की गहलोत सरकार में कैबिनेट मंत्री बीडी कल्ला ने सदन में रखा। इस विधेयक के बाद सरकारी नौकरियों और शैक्षणिक संस्थाओं में प्रवेश में गुर्जर समेत 5 जातियों को आरक्षण का फायदा मिलने का रास्ता साफ हो जाएगा। बता दें कि आरक्षण की मांग को लेकर आज छठे दिन भी गुर्जर प्रदेश भर में रेल की पटरी और सड़कों पर जमे हुए हैं। इसको लेकर गहलोत सरकार काफी दबाव में थी।

गुर्जर आंदोलन जिस तरीके से उग्र हो रहा था उसको लेकर राजस्थान में काफी बैठके हो रही थीं। मंगलवार को गहलोत सरकार इस संबंध में दिनभर बैठकें करती रही और कैबिनेट में यह तय किया कि बुधवार को विधानसभा में 10 फीसदी सवर्ण आरक्षण बिल के साथ 4 फीसदी गुर्जर आरक्षण देने का संकल्प पत्र भी पारित किया जाएगा।

Support Newsroompost
Support Newsroompost