राजस्थान कांग्रेस में सियासी घमासान, विधायक ने की पायलट को CM बनाने की मांग

लोकसभा चुनाव में बड़ी शिकस्त मिलने के बाद कांग्रेस की मुश्किलें और बढ़ती जा रही हैं। खासकर राजस्थान सरकार को लेकर कांग्रेस में मतभेद गहराता जा रहा है। चूंकि लोकसभा चुनाव में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत भी चुनाव हार गए हैं। ऐसे में कांग्रेस नेताओं में मुख्यमंत्री गहलोत के लिए असंतोष सामने आ रहा है और सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाए जाने की मांग जोर पकड़ रही है।

Written by: June 5, 2019 4:15 pm

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में बड़ी शिकस्त मिलने के बाद कांग्रेस की मुश्किलें और बढ़ती जा रही हैं। खासकर राजस्थान सरकार को लेकर कांग्रेस में मतभेद गहराता जा रहा है। चूंकि लोकसभा चुनाव में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत भी चुनाव हार गए हैं। ऐसे में कांग्रेस नेताओं में मुख्यमंत्री गहलोत के लिए असंतोष सामने आ रहा है और सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाए जाने की मांग जोर पकड़ रही है।

टोडाभीम से कांग्रेस विधायक बी आर मीणा ने कहा की सचिन पायलट को राज्य का मुख्यमंत्री होना चाहिए था और युवा चेहरे को दरकिनार करने की वजह से ही लोकसभा चुनाव में पार्टी को जनसमर्थन नहीं हासिल हुआ। उन्होंने कहा कि राज्य में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की है और इसके लिए सचिन पायलट को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता।

‘हार के जिम्मेदार पायलट’
कांग्रेस विधायक का यह बयान गहलोत के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने अपने बेटे वैभव की हार के लिए सचिन पायलट को जिम्मेदार ठहरा दिया था. प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट पर बेटे की हार का ठीकरा फोड़ते हुए मुख्यमंत्री ने बयान दिया, ‘सचिन पायलट ने कहा कि वैभव बड़े अंतर से जीत हासिल करेंगे, क्योंकि वहां हमारे 6 विधायक हैं और हमारा चुनाव प्रचार अच्छा है।।

राहुल गांधी ने पिछले महीने कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में नेताओं के बेटों को टिकट दिए जाने पर सवाल उठाया था। उन्होंने कहा था कि बेटों को जिताने के लिए बड़े नेताओं ने मेहनत की और एक संसदीय क्षेत्र में सीमित रह गए।