अमित शाह के खिलाफ एफआईआर लोकतंत्र का मजाक : राजनाथ

राजनाथ ने ट्वीट में कहा, “कानून-व्यवस्था किसी राज्य सरकार और उसके मुख्यमंत्री की प्राथमिक जिम्मेदारी है। पश्चिम बंगाल सरकार ओर मुख्यमंत्री को मौजूदा हालात की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।”

Written by Newsroom Staff May 15, 2019 9:42 pm

नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनकी सरकार पर भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को डराने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया। राजनाथ की प्रतिक्रिया ऐसे समय में आई है, जब एक दिन पहले कोलकाता पुलिस ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ मंगलवार के उनके रोडशो के दौरान हिंसा के संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज की है।


राज्य में बढ़ती राजनीतिक हिंसा पर चिंता जाहिर करते हुए राजनाथ ने कई सारे ट्वीट में कहा, “भाजपा अध्यक्ष के रोडशो पर हमले के लिए उन्हीं के खिलाफ एफआईआर लोकतंत्र और उचित प्रक्रिया का एक मजाक है।”


उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार लोगों के लोकतांत्रिक अधिकारों को छीनने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर रही है। “एक राजनीतिक दल के नेताओं और कार्यकर्ताओं को डराने-धमकाने के लिए ये कोशिशें कामयाब नहीं होंगी।”

Rajnath Singh
राजनाथ ने ट्वीट में कहा, “कानून-व्यवस्था किसी राज्य सरकार और उसके मुख्यमंत्री की प्राथमिक जिम्मेदारी है। पश्चिम बंगाल सरकार ओर मुख्यमंत्री को मौजूदा हालात की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।”

Facebook Comments