तीन तलाक बिल पर रविशंकर प्रसाद और मुख्तार अब्बास नकवी ने दिया जोरदार भाषण

तीन तलाक बिल पर चर्चा के दौरान बीजेपी सांसद मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि आज ऐतिहासिक दिन है क्योंकि 33 साल बाद आज यह सदन सामाजिक कुरीति को खत्म करने के लिए चर्चा कर रहा है

Written by: July 30, 2019 1:47 pm

नई दिल्ली। राज्यसभा में तीन तलाक बिल को लेकर चर्चा हो रही है और इस बिल को पास कराने को लेकर सरकार पक्ष के नेता जोरदार दलिले पेश कर रहे हैं। सरकार पक्ष के नेता और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद और भाजपा सांसद मुख्तार अब्बास नकवी ने इस बिल का विरोध करने वाली पार्टियों को जोरदार तर्क देकर अपना पक्ष रखा।

तीन तलाक बिल पर चर्चा के दौरान बीजेपी सांसद मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि आज ऐतिहासिक दिन है क्योंकि 33 साल बाद आज यह सदन सामाजिक कुरीति को खत्म करने के लिए चर्चा कर रहा है, इससे पहले सदन ने शाहबानो पर कोर्ट के फैसले को निष्प्रभावी करने के लिए चर्चा की थी। नकवी ने कहा कि आज कुरीति को खत्म करने के फैसले को प्रभावी बनाने के लिए चर्चा हो रही है।

mukhtar abbas naqvi

नकवी ने कहा कि कुरीति का इस्लाम से क्या लेना-देना, इसे तो कई इस्लामिक देश गैर कानूनी और गैर इस्लामी बताकर खत्म कर चुके हैं। इसका धर्म से कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि देश ने मिलकर पहले भी कुरीतियों को खत्म किया है तब कोई हंगामा क्यों नहीं हुआ। देश आज कांग्रेस के व्यवहार को देख रहा है और लोकसभा से राज्यसभा में आते-आते बिल पर कांग्रेस के पैर क्यों लड़खड़ा जाते हैं। नकवी ने आखिर में शेर पढ़ते हुए कहा कि तू दरिया में तूफान क्या देखता है, खुदा है निगेहबान क्या देखता है। तू हाकिम बना है तो इंसाफ देकर, तू हिन्दू-मुसलमान क्या देखता है।

Ravi Shankar Prasad

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी कार्रवाई नहीं हो पा रही थी और छोटी-छोटी बातों पर तीन तलाक दिया जा रहा था। हम इसी वजह से फिर से कानून लेकर आए हैं। मंत्री ने कहा कि लोगों को शिकायतों के बाद बिल में कुछ बदलाव भी किए गए हैं। अब इसमें बेल और समझौता का प्रावधान भी रखा गया है।

प्रधानमंत्री Narendra Modi आज नागरिकों के लिए क्या किया? 30th July 2019

Question – प्रधानमंत्री Narendra Modi ने आज नागरिकों के लिए क्या किया? 30th July 2019Answer – #TripleTalaqBill is passed – मोदी सरकार की बड़ी कामयाबी, तीन तलाक बिल लोकसभा के बाद राज्यसभा से भी पासRead More – https://bit.ly/2LOnkRL #TripleTalaqSeAzaadi

Posted by Newsroom Post on 2019 m. liepos 30 d., antradienis

इस सवाल को वोट बैंक के तराजू पर न तौला जाए, यह सवाल नारी न्याय, नारी गरिमा और नारी उत्थान का सवाल है। कानून मंत्री ने कहा कि एक तरफ बेटियां फाइटर प्लेन चला रही हैं और दूसरी तरफ तीन तलाक की पीड़ित बेटियों को फुटपाथ पर नहीं छोड़ा जा सकता। उन्होंने सदन से बिल को पास करने की अपील की।