दिग्विजय के खिलाफ साध्वी का चुनाव लड़ना तय, कही ये बड़ी बात

मध्यप्रदेश की भोपाल सीट से बीजेपी के टिकट पर साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का चुनाव लड़ना तय है। बुधवार को साध्वी प्रज्ञा ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में बीजेपी ज्वॉइन की। बीजेपी ज्वॉइन करने के बाद साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि चुनाव लडूंगी और जीतूंगी।

Written by: April 17, 2019 1:50 pm

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश की भोपाल सीट से बीजेपी के टिकट पर साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का चुनाव लड़ना तय है। बुधवार को साध्वी प्रज्ञा ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में बीजेपी ज्वॉइन की। बीजेपी ज्वॉइन करने के बाद साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि चुनाव लडूंगी और जीतूंगी। साध्वी ने कहा कि कोई चुनौती नहीं है मेरे लिए, मैं धर्म पर चलने वाली हूं, मैं शाम को वापस आ रहीं हूं। मेरे साथ जो कुछ भी हुआ वो भी बताऊंगी। बता दें, कांग्रेस ने इस सीट से दिग्विजय सिंह को टिकट दिया है।

साध्वी प्रज्ञा ने कहा- धर्मयुद्ध लड़ने को तैयार हूं

बीते दिनों साध्वी प्रज्ञा ने कहा था कि यदि संगठन का आदेश होगा तो वह ‘धर्मयुद्ध’ लड़ने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा था कि अभी तक मैं किंगमेकर की भूमिका में थी लेकिन अब यदि संगठन के आदेश पर किंग बनना पड़े तो वे इसके लिए तैयार हैं।

साध्‍वी ने कहा था कि जिस दिग्विजय सिंह ने हिंदू धर्म को पूरे विश्व में बदनाम किया, भगवा ध्‍वज को आतंकवाद का रूप बताया, अध्‍यात्‍म और त्‍यागमय जीवन पर आक्षेप किए और राष्‍ट्रधर्म को कलंकित किया, उसके खिलाफ यदि मुझे चुनाव लड़ना पड़े तो पीछे नहीं हटूंगी।

मालेगांव बम विस्फोट

साध्वी प्रज्ञा, मध्य प्रदेश के एक मध्यमवर्गीय परिवार से हैं। परिवारिक पृष्ठभूमि के चलते वे संघ व विहिप से जुड़ी और फिर बाद में संन्यास ले लिया। 2008 में हुए मालेगांव बम विस्फोट में उन्हें शक के आधार पर गिरफ्तार किया गया गया, हाल ही में वे दोषमुक्त हुई हैं।

इन नामों की थी चर्चा

कांग्रेस ने भोपाल सीट से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को मैदान में उतारा है। दिग्विजय के सामने चुनाव लड़ने के लिए बीजेपी के आधा दर्जन नेताओं के नाम की चर्चा थी, सबसे ऊपर शिवराज सिंह चौहान का नाम था। इसके अलावा उमा भारती, कैलाश विजयवर्गीय, नरेंद्र सिंह तोमर, वीडी शर्मा (जो अब खजुराहो से बीजेपी प्रत्याशी हैं), प्रदेश उपाध्यक्ष विजेश लुणावत, वर्तमान सांसद आलोक संजर के नाम की भी चर्चा थी।