शिवसेना की मांग, कहा- ‘लोकसभा डिप्टी स्पीकर पद पर हमारा हक’

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी और सेंट्रल गवर्नमेंट में उच्चस्तरीय पदाधिकारियों से कहा है कि एनडीए का दूसरा सबसे बड़ा सहयोगी दल होने के नाते शिवसेना का डिप्टी स्पीकर पोस्ट पर स्वाभाविक दावा बनता है।

Avatar Written by: June 6, 2019 12:53 pm

नई दिल्ली। मोदी सरकार-2 के कैबिनेट मंत्रियों के शपथ लेने के बाद अब लोकसभा स्पीकर और डिप्टी स्पीकर के चुनाव की बारी है। इसको लेकर कई नाम चर्चा में चल रहे हैं। बता दें कि लोकसभा स्पीकर की रेस में आठवीं बार सांसद बन चुकी मेनका गांधी का नाम सबसे आगे हैं।

फिलहाल शिवसेना के उद्धव ठाकरे ने गृहमंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के सामने मांग की है कि लोकसभा का डिप्टी स्पीकर शिवसेना से हो। बता दें कि एनडीए में भाजपा के बाद शिवसेना ही ऐसी पार्टी है जिसकी सबसे ज्यादा सीटेें। लोकसभा चुनाव में उसे महाराष्ट्र में 18 सीटों पर जीत हासिल हुई है। इसलिए उद्धव ने ज्यादा मंत्री पद की मांग की है।

Sanjay Raut

उद्धव ठाकरे ने एनडीए सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल अपनी पार्टी के इकलौते सांसद को ज्यादा दमदार पोर्टफोलियो दिए जाने पर जोर दिया है। शिवसेना के मंत्री को हेवी इंडस्ट्रीज ऐंड पब्लिक एंटरप्राइजेज मिनिस्ट्री दी गई है।

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी और सेंट्रल गवर्नमेंट में उच्चस्तरीय पदाधिकारियों से कहा है कि एनडीए का दूसरा सबसे बड़ा सहयोगी दल होने के नाते शिवसेना का डिप्टी स्पीकर पोस्ट पर स्वाभाविक दावा बनता है। हम उम्मीद करते हैं कि हमारे अनुरोध पर सकारात्मक तरीके से विचार किया जाएगा।

संयोग ये भी है कि राज्यसभा में एनडीए के दूसरे सबसे बड़े सहयोगी दल को कुछ महीने पहले ऊपरी सदन के डिप्टी चेयरमैन की पोस्ट दी गई थी। डिप्टी पद को लेकर शिवसेना के संजय राउत ने कहा, ‘हमारी यह डिमांड नहीं है बल्‍कि स्‍वभाविक तौर पर हमारा हक है, यह पद शिवसेना को मिलना चाहिए।’

राम मंदिर पर भी संजय राउत ने कहा कि राम मंदिर के निर्माण अब जरूरी हो गया है। इस बार यदि हम इस दिशा में कुछ नहीं करेंगे तो देश का भरोसा हमसे उठ जाएगा। अब जब भाजपा के 303 विधायक हैं, शिवसेना के 18, एनडीए में 350 से अधिक तब मंदिर निर्माण कराना आसान है।