17वीं लोकसभा के लिए चुने गए 542 नए सांसदों की पूरी सूची राज्यवार देखें यहां

बता दें कि 17 वीं लोकसभा के लिए एनडीए गठबंधन कुल 353 सीटें जीतने में सफल रहा है। भाजपा ने इस बार के चुनाव में अपने दम पर 300 के आंकड़े को हासिल किया है। भाजपा के खाते में अपने दमपर 303 सीटें हासिल की हैं। कांग्रेस की बात करें तो पार्टी ने 52 सीटें जीती हैं। यूपीए के हिस्से में कांग्रेस को मिलाकर 85 सीटें मिली हैं।

Written by: May 27, 2019 7:01 pm

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा ने ऐतिहासिक जीत हासिल की है। जनता का यह विश्वास भाजपा ने एक दिन में नहीं बल्कि पूरे पांच सालों में पीएम मोदी के कार्यकाल में जीता है। अब जनता के इस विश्वास के साथ जहां एक बार फिर मोदी सरकार सत्ता में वापसी को तैयार है और पीएम मोदी दूसरी बार पीएम पद की शपथ लेने को तैयार हैं तो ऐसे में ये कयास लगाए जा रहे हैं कि शपथ ग्रहण का समारोह 2014 के मुकाबले ज्यादा भव्य होने वाला है। बता दें कि नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण की तैयारियां जोरों पर हैं। अब इसके लिए अभी से ही तैयारियों का सिलसिला शुरू हो गया है। ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं कि कहां से किन-किन सांसदों को जनता का आशीर्वाद मिला है और उनके लिए संसद तक जाने का मार्ग प्रशस्त हुआ है।

pm

बता दें कि एनडीए गठबंधन कुल 353 सीटें जीतने में सफल रहा है। भाजपा ने इस बार के चुनाव में अपने दम पर 300 के आंकड़े को हासिल किया है। भाजपा के खाते में अपने दमपर 303 सीटें हासिल की हैं। कांग्रेस की बात करें तो पार्टी ने 52 सीटें जीती हैं। यूपीए के हिस्से में कांग्रेस को मिलाकर 85 सीटें मिली हैं। वहीं इस चुनाव में सपा+बसपा के गठबंधन के खाते में 15 सीटें गई हैं। जबकि अन्य के खाते में 89 सीटें गई हैं। वहीं 543 लोकसभा में से 542 के चुनाव परिणाम घोषित किए गए हैं। वेल्लौर लोकसभा सीट पर चुनाव पहले ही रद्द कर दिया गया था।

तमिलनाडु के वेल्लौर लोकसभा चुनाव को रद्द कर दिया था। वेल्लौर में बड़े पैमाने पर कैश बरामद होने के बाद चुनाव आयोग ने वहां का चुनाव रद्द करने की घोषणा की थी।

नीचें देखें सभी राज्यों से जीते हुए सांसदों की सूची

आंध्र-प्रदेश

Andhra

अंडमान और निकोबार

Andman

अरुणाचल प्रदेश

असम

बिहार

चंडीगढ़

छत्तीसगढ़

दादर नगर हवेली

दमन और दीव

दिल्ली

गोवा

गुजरात

हरियाणा

हिमाचल प्रदेश

जम्मू-कश्मीर

झारखंड

कर्नाटक

केरल

लक्षद्वीप

मध्यप्रदेश

महाराष्ट्र

मणिपुर

मेघालय

मिजोरम

नागालैंड

ओडिशा

पुडुचेरी

पंजाब

राजस्थान

सिक्किम

तमिलनाडु

तेलंगाना

त्रिपुरा

उतर-प्रदेश

उत्तराखंड

पश्चिम बंगाल